किसानों के भारत बंद को लेकर उत्तराखंड कांग्रेस ने बनाया ये प्लान

किसानों के भारत बंद को लेकर उत्तराखंड कांग्रेस ने बनाया ये प्लान

देहरादून(अरुण शर्मा)। किसानों के भारत बंद को लेकर उत्तराखंड कांग्रेस ने कमर कस ली है।

उत्तराखंड कांग्रेस ने किसानों के इस भारत बंद को पूरी तरह से समर्थन किया है।

उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने अपने दो महामंत्रियों को इसके लिए लगाए रखा।

किसानों के भारत बंद को लेकर उत्तराखंड कांग्रेस
किसानों के भारत बंद को लेकर उत्तराखंड कांग्रेस

महामंत्री राजेंद्र शाह और नवीन जोशी ने पूरे उत्तराखण्ड में बंद को सफल बनाने के लिए जिला अध्यक्षो से फोन पर तैयारी का जायजा लेते रहे।

उत्तराखंड कांग्रेस ने भारत बंद को सफल बनाने की व्यापक तैयारियां कर ली है।

पार्टी के दो महामंत्री राजेंद्र शाह और नवीन जोशी आज दिन भर राज्य की तमाम जिला और नगर इकाइयों से इस बंद को सफल बनाने की तैयारियों में फोन द्वारा बातचीत में जुटे रहे।

पार्टी के प्रदेश महामंत्री संगठन विजय सारस्वत और उपाध्यक्ष धीरेंद्र प्रताप ने बताया कि केंद्र की मोदी सरकार की तानाशाही को नीतियों के चलते अब पानी सिर से ऊपर निकल चुका है।

इसलिए कांग्रेस ने कल के बंद को प्रतिष्ठा का विषय बना दिया है।

कल सुबह राज्य के कांग्रेस मुख्यालय में प्रीतम सिंह के नेतृत्व में सैकड़ों कांग्रेस जन शहर की ओर निकलेंगे।

इस बंद को पूर्णता बनाने हेतु हर संभव प्रयास सुनिश्चित करेंगे ।

उत्तराखंड किसान कांग्रेस ने किसानों के भारत बंद पर भरी हुंकार।

किसान आंदोलन के समर्थन में 8 दिसंबर को भारत बंद का पूर्ण समर्थन करेगी उत्तराखंड किसान कांग्रेस कमेटी-सुशील राठी

उत्तराखंड प्रदेश किसान कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व राज्य मंत्री सुशील राठी ने आगामी 8 दिसंबर 2020 को किसानों के समर्थन में किसान महा आंदोलन भारत बंद को उत्तराखंड प्रदेश किसान कांग्रेस कमेटी की ओर से पूर्ण समर्थन दिया।

उत्तराखंड प्रदेश किसान कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व राज्य मंत्री सुशील राठी ने कहा कि हमारा देश कृषि प्रधान देश है।

किसानों के भारत बंद को लेकर उत्तराखंड कांग्रेस
किसानों के भारत बंद को लेकर उत्तराखंड कांग्रेस

और हमारा देश का किसान धरती चीरकर देश की जनता का पेट भरता है।

जो देश का अन्नदाता कहलाता है देश का अन्नदाता आज अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर पड़ा हुआ है।

केंद्र सरकार के द्वारा किसान विरोधी तीन बिल अध्यादेश लाकर देश के किसानों को गुलाम बनाने के लिए निजी करण का रास्ता अपनाया गया है।

जिसके विरोध में देश भर के किसान सड़क पर उतरने को मजबूर हो गए हैं।

जो अपने-अपने प्रदेशों की ओर से देश की राजधानी दिल्ली पहुंचकर मोदी सरकार के किसान विरोधी बिल के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करना चाहते हैं।

उन्हें मोदी सरकार के प्रशासन के द्वारा मारते पीटते हुए किसानों को रोका जा रहा है।

सीधे तौर पर मोदी सरकार के द्वारा लोकतंत्र की हत्या की जा रही है जिसकी विरोध में देशभर के किसान संगठन एकत्रित होकर किसानों की आवाज को उठा रहे हैं।

भारत बंद को उत्तराखंड प्रदेश किसान कांग्रेस कमेटी अपना पूर्ण समर्थन भारत बंद में दे रही है

सुशील राठी ने आगे अपने संबोधन में कहा कि देश के अन्नदाता किसान भाइयों की स्वतंत्रता को बाहर किया जाए।

 

admin