हरिद्वार(कमल खड़का)। चीन की हिमाकत के बाद देश मे हर तरफ उसके खिकफ गुस्सा है। धर्मनगरी हरिद्वार से भी चीन के सामान के बहिष्कार करने और सरकार से कड़ी कार्यवाही की मांग उठी।

इस मामले में शहीद हुए भारतीय जवानों को श्रधंजलि के साथ हरिद्वार में परशुराम अखाड़े ने इस पूरे मामले की घोर निंदा की।

चीनी सैनिकों के झड़प में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि दी

शहीद सैनिकों के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा-पंडित अधीर कौशिक

श्री अखण्ड परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक के संयोजन में कार्यकर्ताओं ने मालवीय घाट पर गंगा में पुष्पांजलि अर्पित कर चीनी सैनिकों के साथ झड़प में शहीद हुए भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि देकर उनकी आत्मशांति की प्रार्थना की।

इस दौरान सभी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के पोस्टर व चीनी उत्पादों को जलाकर चीन में बने सामान का बहिष्कार करने का संकल्प भी लिया।

अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि चीनी सैनिक भारतीय सीमाओं में जबरन घुसपैठ कर रहे हैं। चीनी सैनिकों ने कायरतापूर्ण तरीके से भारतीय सैनिकों सैनिकों पर हमला किया। जिसमें बीस बहादुर सैनिक शहीद हो गए।

शहीदों के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा। केंद्र सरकार को चीन के इस दुस्साहस का करारा जवाब देना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चीन से सभी प्रकार के रिश्तों को समाप्त कर देना चाहिए।

चीन लगातार भारतीय सीमाओं में दखलंदाजी कर रहा है। जिसे किसी भी सूरत में सहन नहीं किया जाएगा। भारत के सैनिक किसी भी परिस्थिति में अपनी सीमाओं की रक्षा करने में पीछे नहीं है। उन्होंने हमले में मारे गए वीर शहीदों को नमन करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी।

व्यापार मण्डल के जिला महामंत्री विशाल गर्ग व समाजसेवी जेपी बड़ोनी ने कहा कि केंद्र सरकार जल्द से जल्द चीन को करारा जवाब दे।

भारतीय जवानों की शहादत को बेकार नहीं जाने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि भारतीय नागरिक चीनी उत्पादों का खुलकर बहिष्कार करें। चीन षड़यंत्र के तहत भारत की शांति को भंग करना चाहता है।

कोरोना महामारी को पूरी दुनिया में फैलाने का जिम्मेदार चीन भारत की सरजमीं पर अतिक्रमण कर रहा है।

चीन की पंडित पवन कृष्ण शास्त्री व सुनील प्रजापति ने कहा कि चीन के नापाक इरादों को कभी कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। केंद्र सरकार को चीन की हरकत का मंूहतोड़ जवाब देना चाहिए। अब समय आ गया है कि चीन को सबक सिखाया जाए।

देश दुनिया में कोरोना संक्रमण फैलाने वाले देश से सचेत रहने की आवश्यकता है। यह मानव जीवन के लिए सबसे बड़ा खतरा बना हुआ है।

पूर्व वायुसेना अधिकारी अंकेश भाटी व प्रमोद गिरी ने कहा कि लद्दाख में चीनी सैनिक लगातार घुसपैठ करते चले आ रहे हैं। भारतीय सैनिकों ने अदम्य साहस का परिचय देते हुए चीनी सैनिकों को भारतीय सीमाओं से खदेड़ने का काम कर रहे हैं।

कार्यकर्ताओं ने गंगा घाट पर वीर शहीद सैनिकों की नमन करते हुए गंगा मैया से उनके परिवारों को इस दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की।

 

इस अवसर पर पंकज सिंह, मोहित चैहान, विक्रम नाचीज, नरेंद्र श्रमिक, सुनील, सचिन अरोड़ा, सतीश शर्मा, स्वामी नित्यानन्द आदि शामिल रहे।

 

 

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *