हैलीकॉप्टर लैंडिंग और पार्किंग अब होगी आसान।

सिविल एविएशन ने ऑनलाइन अनुमति के लिए शुरू किया गया साफ्टवेयर

 

देहरादून(अरुण शर्मा)। उत्तराखंड में अब हैलीकॉप्टर लैंडिंग और पार्किंग की ऑनलाईन मिलनी शुुुरु हो जााएगी।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हैलीकॉप्टर लैंडिंग और पार्किंग की ऑनलाईन अनुमति हेतु सॉफ्टवेयर का का शुभारम्भ किया।

यह भी पढ़े-फर्जी कागजो के आधार पर सेना में नौकरी चाहने वालो का क्या हुआ अंजाम 

अब हैली कम्पनियों को हैलीकॉप्टर लैंडिंग और पार्किंग के लिए अनुमति लेना आसान होगा।

इसके लिए शुल्क भी ऑनलाईन ही जमा कराया जायेगा।

हैलीकॉप्टर लैंडिंग और पार्किंग
हैलीकॉप्टर लैंडिंग और पार्किंग को अधिकारियों साथ सीएम की बैठक

इसके लिए सिंगल विंडो सिस्टम की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की अध्यक्षता में उत्तराखण्ड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर की छटवीं बैठक आयोजित की गई।

https://ucada.uk.gov.in/  के माध्यम से परमिशन सीधे उत्तराखण्ड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण से मिलेगी।

पहले इसके लिए संबंधित जिले से अनुमति लेनी पड़ती थी।

अब जिलास्तरीय अधिकारियों को इसकी सिर्फ सूचना देनी होगी, परमिशन सीधे युकाडा से ही मिलेगी।

बैठक में निर्णय लिया गया कि उत्तराखण्ड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण के लिए एक कंपनी का गठन किया जाएगा।

जो वाणिज्यिक कार्यों के लिए एवं सिविल एविएशन के व्यवस्थित एवं सर्वांगीण विकास के लिए काम करेगी।

सिविल एविएशन के वाणिज्यिक कार्यों के सम्पादन, नियंत्रण एवं नियामक की भूमिका निदेशालय स्तर से संपादित की जायेंगी।

राज्य में पर्वतीय क्षेत्रों में आपदा एवं मेडिकल इमरजेंसी (हैली एंबुलेंस) राजकीय वायुयान बी-200 के स्थान पर एक डबल इंजन एवं एक सिंगल इंजन हैलीकाप्टर क्रय करने पर सहमति बनी।

सहस्त्रधारा हैलीड्रोम का सौन्दर्यीकरण किया जायेगा।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *