भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस,याद रहेगा उनका योगदान

भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस,याद रहेगा उनका योगदान

देहरादून(अरुण शर्मा)। भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस उन्हें याद किया गया।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सहित पक्ष और विपक्ष के नेताओं ने उनके योगदान को याद किया।

यह भी पढ़े-पहल संस्था की पहल पढ़ाएंगे गरीब बच्चों को

राजनैतिक ही नही अपितु कई सामाजिक संस्थाओं ने भी उनके महापरिनिर्वाण दिवस पर कई कार्यक्रमो का आयोजन कर उन्हें याद किया।

मुख्य मंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उन्हें याद करते हुए ट्वीट किया

निर्माता भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर जी के महापरिनिर्वाण दिवस पर विनम्र श्रद्धांजलि। राष्ट्र के राजनैतिक, सांस्कृतिक, विधिक और सामाजिक सरोकारों में आपका अमूल्य योगदान सदैव स्मरणीय रहेगा।

 

 

ऋषिकेश में उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल संविधान निर्माता बाबा साहब Bheem rao अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

उन्होंने कहा कि आज bharat ratn बाबा साहब के विचारों को आत्मसात करने की आवश्यकता है ।

भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस
भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस

बाबा साहब भीमराव Ambedkar के परिनिर्वाण दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा है कि बाबा साहब अंबेडकर ने हमेशा सामाजिक समरसता का संदेश दिया ।

अग्रवाल ने कहा है कि वह अत्यंत मेधावी छात्र थे वकालत के साथ-साथ अर्थ शास्त्र के भी विद्वान थे, उन्होंने हमेशा समाज हित के लिए कार्य किया ।

अग्रवाल ने कहा है कि जिस भारत के संविधान को आज हमने आत्मसात किया उसके प्रत्येक अनुच्छेद में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के विचार परिलक्षित होते हैं।

अग्रवाल ने कहा है कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर ने समाज को संगठित करने के लिए अनेक नारे दिए।

उन्होंने कहा है कि बाबा साहब ने कहा था कि शिक्षित बनो, संगठित रहो और संघर्ष करो आज समाज में संगठित होकर राष्ट्र निर्माण के कार्य करने की आवश्यकता है ।

साथ ही अग्रवाल ने कहा है कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर किसी एक जाति व धर्म के पुरोधा नहीं थे बल्कि वह संपूर्ण भारतवर्ष की धरोहर थी उनके कार्यों का संपूर्ण देश को लाभ मिल रहा है ।

अग्रवाल ने अपने संबोधन में कहा है कि बाबा साहब भीमराव अंबेडकर को मरणोपरांत भारत रत्न जैसी उपाधि देकर उनके कार्यों को तत्कालीन सरकार ने प्रोत्साहित करने का काम किया।

भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस
भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस

उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के विचारों को आत्मसात करके इस प्रदेश को व समाज को और आगे बढ़ाने की आवश्यकता है।

विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अम्बा दत्त आर्य ने शिष्टाचार भेंट की।

इस अवसर पर अग्रवाल ने पुष्प गुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया एवं आर्य ने बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस के अवसर पर अग्रवाल को अंबेडकर जी का चित्र भी भेंट किया ।

भेंट मुलाकात के दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने प्रेम चंद अग्रवाल ने कहा है कि आज बाबा साहब भीमराव अंबेडकर का परिनिर्वाण दिवस है ।

इस अवसर पर अग्रवाल ने अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अम्बा दत्त आर्य से वार्ता करते हुए कहा है कि विधानसभा के प्रत्येक कक्ष में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर का चित्र स्थापित किया गया है।

भेल हरिद्वार में भी किये गए याद……..

भारत रत्न बाबाभीमराव अंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस को गत वर्षो की भांति इस वर्ष भी स्वर्ण जयंती पार्क भेल में आयोजित किया गया।

भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस
भारत रत्न बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस

जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में महाप्रबंधक इंजीनियरिंग के बी बत्रा एवं महाप्रबंधक मानव संसाधन आर आर शर्मा जी,BHEL चिकित्सा अधिकारी एस दास व भेल के अन्य अधिकारी गणों के साथ साथ इंटक के महामंत्री राजवीर सिंह एवं बीएचएल के अनेक कर्मचारी गण उपस्थित हुए।

जिन्होंने कोरोना नियमों की गाइडलाइन का पालन करते हुए भारत रत्न भीमराव अंबेडकर के चरणों में श्रद्धा सुमन अर्पित कर उन्हें याद किया।

 

admin