धन्यवाद जवान-अभियान से जवानों के घर-घर पहुँचेगी उत्तराखंड कांग्रेस

धन्यवाद जवान-अभियान से जवानों के घर-घर पहुँचेगी उत्तराखंड कांग्रेस

देहरादून(अरुण शर्मा)। उत्तराखंड कांग्रेस ने राज्य में धन्यवाद जवान अभियान की शुरुवात की है।

विजय दिवस के अवसर पर शुरू हुए इस अभियान के तहत एक वट्सअप नम्बर भी जारी किया गया है।

खास खबर-विजय दिवस पर उत्तराखंड में किया गया शहीदों को नमन

जवानों के परिवार के लिए जारी किए गए watsapp number 7669643999 पर किसी भी समस्या से अवगत कराया जा सकता है।

धन्यवाद जवान थोड़ी मिठाई, थोड़ी दवाई और बहुत सारा सम्मान का नारे के साथ पीसीसी चीफ प्रीतम सिंह ने इस अभियान की शुरुवात की।

‘धन्यवाद जवान’ अभियान के तहत फौजी जवानों के घर जाकर प्रदेश के लोगों की तरफ से उनके परिवारों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करेंगे।

धन्यवाद जवान-उत्तराखंड कांग्रेस का अभियान
धन्यवाद जवान-उत्तराखंड कांग्रेस का अभियान

इस अभियान के तहत प्रीतम उत्तराखंड के सभी ज़िलों का दौरा करेंगे और सेना एवं अर्धसैनिक बलों के जवानों के परिवारों से मिलेंगे।

प्रीतम सिंह ने कहा- “मैं खुद देश की सेवा में तैनात जवान साथियों के घर *जाऊंगा* और उनके परिवार का हाल पूछ उनकी समस्या के निराकरण के लिए उचित कदम उठाऊंगा।

साथ ही हम उनकी ज़रूरतों की पूर्ति हेतु एक व्हॉट्सएप नंबर – 766 964 3999 भी जारी कर रहे हैं।

जिसके माध्यम से जवानों के परिजन व्हॉट्सएप करके अपनी समस्या व सुझावों को हमारे साथ साझा कर सकते हैं।”

अभियान की शुरुआत देहरादून से की गयी है। जहाँ जवानों के परिजनों से मिलकर उन्हें ‘थोड़ी मिठाई, थोड़ी दवाई और सम्मान स्वरुप शॉल भेंट किया गया।

प्रीतम सिंह ने यह सुनिश्चित किया कि सरहद पर डटे जवानों के परिवार के साथ वह हर सुख-दुःख में खड़े हुए हैं।

प्रीतम सिंह ने कहा कि जब जब देश पर आंच आयी तब तब देव भूमि के युवा अपने प्राणों की परवाह किये बिना दुश्मनों से लोहा लेने के लिए आगे खड़े दिखाई दिए।

उत्तराखंड का गौरवान्वित करने वाला इतिहास…..

आज़ादी से अब तक देवभूमि को 1 परमवीर चक्र, 6 अशोक चक्र, 13 महावीर चक्र, 32 कीर्ति चक्र सहित 1343 वीरता पदक से नवाज़ा जा चुका है।

प्रीतम सिह ने कहा कि बतौर जनप्रतिनिधि देश के लिए सेवा दे रहे जवानों के परिवार को मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराने और उनकी समस्याओं का निराकरण करना हमेशा से उनकी प्राथमिकता रही है।

लेकिन मौजूदा सरकार में जवानों और उनके परिजनों का सिर्फ शोषण हुआ है।

इसलिए वो खुद प्रदेश के नागरिक होने के नाते सरहद व देश की सुरक्षा में विभिन्न दलों में तैनात जवानों के परिवारों की समस्याओं को जानने के लिए उनके बीच जाएंगे और उनकी समस्याओं के निराकरण के लिए हर उचित प्रयास करेंगे।

admin