त्रिवेंद्र सरकार की सोच को अंजाम दे रही रुद्रप्रयाग की महिलाएं

त्रिवेंद्र सरकार की सोच को अंजाम दे रही रुद्रप्रयाग की महिलाएं

रूद्रप्रयाग(अरुण शर्मा)। त्रिवेंद्र सरकार की स्वरोजगार ओर आत्म निर्भर उत्तराखंड की मुहिम को अंजाम दे रही है रुद्रप्रयाग जिले की महिलाएं।

इन महिलाओं ने स्वरोजगार का एक नया रास्ता अपनाया अपितु आत्मनिर्भर कैसे बना जाता है उसका सबक भी दे डाला।

पलायन की मार झेलता रुद्रप्रयाग की महिलाओं ने सामूहिक सब्जी उत्पादन कर अपनी आर्थिकी मजबूत की है।

उद्यान विभाग और विकास भवन के सहयोग से महिलाओं ने सामूहिक सब्जी उत्पादन कर न केवल अपनी आर्थिकी मजबूत की अपितु दूसरों के लिए प्रेरणास्रोत बनने का काम भी किया।

ये कहानी अगस्त्यमुनि विकास खण्ड के ग्राम पंचायत कमेडा के धुयेली की है।

जंहा पर गांव के 20 परिवार की महिलाओं ने सामुहिक रुप से सब्जी उत्पादन को स्वरोजगार के रूप में अपनाया।

उद्यान विभाग और स्वयं सेवी संस्था द्वारा प्रेरणा मिलने के बाद महिलाओं ने समूह बनाकर खुद को आत्मनिर्भर बनाया।

जिन खेतों में कभी अपने खाने लायक भी सब्जी नही होती थी, उन्ही खेतों ने आज कई परिवारों की आर्थिकी को मजबूत किया है।

आज वहाँ एक परिवार 20-25 हजार रूपये महीने की आमदनी कर रहा है।

महिलाओं की।इस पहल को अब पूरा गांव बड़ा रूप देने में जुटा हुआ है।

इस अभियान के शुरू से जुड़ी हुई दीपा बताती है कि लॉक डाउन के दौरान उन्होंने इसकी शुरुआत की।

आज गांव के सभी परिवार इस अभियान से धीरे धीरे जुड़ रहे है।

admin