उत्तराखण्ड में नया राष्ट्रीय राजमार्ग बनने पर इस क्षेत्र के लोगों को होगा बड़ा फायदा

उत्तराखण्ड में नया राष्ट्रीय राजमार्ग बनने पर इस क्षेत्र के लोगों को होगा बड़ा फायदा

उत्तराखण्ड में नया राष्ट्रीय राजमार्ग बनने पर इस क्षेत्र के लोगों को होगा बड़ा फायदा

देहरादून(अरुण शर्मा)। केंद्र सरकार ने उत्तराखण्ड के सिमली से जौलजीवी को राजमार्ग का दर्जा दे दिया है।

भारत माला परियोजना के तहत इस डबल लें राष्ट्रीय मार्ग का निर्माण होगा।

सिमली-ग्वालदम-बागेश्वर-जौलजीवी के इस राजमार्ग की लंबाई 230 किलोमीटर होगी।
उत्तराखण्ड में नया राष्ट्रीय राजमार्ग
उत्तराखण्ड में नया राष्ट्रीय राजमार्ग

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री और केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री का आभार जताया है।

खास खबर-बाढ़ नियंत्रण को लेकर विधानसभा स्पीकर की चिंता ,क्या सफल होगा प्रयास

राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित किये जाने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा केन्द्रीय सडक परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का आभार व्यक्त किया है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इस महत्वपूर्ण राजमार्ग को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित होने से राज्य की बड़ी मांग पूरी हुई है।

राज्य को सडक मरम्मत आदि में होने वाली बड़ी राशि की भी इससे बचत हुई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सड़क सीमान्त क्षेत्रों को जोड़ने वाली प्रमुख सडक रही है।

भारत माला के तहत इसके डबल लेन निर्माण से आवागमन में भी सुविधा होगी।

भारत माला के तहत बनने वाली इस डबल लेन सडक के निर्माण में तेजी आने के साथ ही भविष्य में इसकी मरम्मत आदि में होने वाला व्यय भी भारत सरकार द्वारा वहन किया जायेगा।

PMGSY सड़क मुआवजे की होगी जांच

PMGSY सड़क मुवावजे में कथित घोटाले की जांच के सीएम त्रिवेंद्र ने जांच के आदेश दे दिए।

दरअसल प्रधानमंत्री सड़क योजना PMGSY में ग्राम सभा इंडर, पट्टी जुवा, जिला टिहरी गढवाल में कटान में आये खेतों के मुआवजा दिया गया।

जिसमे सारा मुवावजा पांच परिवारों के बजाय सारा मुआवजा एक परिवार को देने का आरोप लगाया गया।
इस माम्आआले में पुष्पा देवी, जमोन्नि देवी एवं जय सिंह जिलाधिकारी टिहरी को शिकायत की थी।
जिसपर सीएम त्रिवेंद्र ने इस प्रकरण की जांच कर अविलम्ब आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये हैं।

admin

One thought on “उत्तराखण्ड में नया राष्ट्रीय राजमार्ग बनने पर इस क्षेत्र के लोगों को होगा बड़ा फायदा

Comments are closed.