हरिद्वार के नगर निगम को कूड़ा विहिन बनाने के लिए ‘केआरएल’ की मुहीम

हरिद्वार के नगर निगम को कूड़ा विहिन बनाने के लिए ‘केआरएल’ की मुहीम

हरिद्वार(अरुण शर्मा)। धर्मनगरी हरिद्वार नगर निगम क्षेत्र को साफ सुथरा बनाने में 2012 से लगी केआरएल कंपनी जहाँ अपना काम पूरी निष्ठा के साथ कर रही है वही कंपनी के कर्मचारी भी अपनी पूरी भागीदारी से ना सिर्फ हरिद्वार को कूड़ा विहीन करने में अपनी भागीदारी दे रहे है।

खास खबर—हरिद्वार लोकसभा—बसपा के लिए जीत से ज्यादा इस सीट पर यह चीज है जरुरी

अपने पहले चरण में कंपनी ने केवल 22 वार्डो से काम शुरू किया था। जो आज नए जोड़े गए वार्डो को छोड़ पुराने सभी वार्डो में अपनी सेवाएं दे रही है। कंपनी शहर भर से डोर टू डोर कूड़ा एकत्र कर सीतापुर में बने कूड़ा निस्तारण केंद्र में भेजा जाता है जहाँ एकत्रित किये गए कूड़े का वर्गीकरण ओर जैविक खाद बनाया जाता है।

इस काम के लिए कंपनी निगम क्षेत्र के हर घर से मात्र 50 रुपये प्रति माह सहयोग राशि के रूप में ले रही है ओर हर दुकान, होटल से 100 रुपए मात्र लिए जा रहे है जो कि मात्र संसाधनों पर खर्च किया जाता है। यहां यह बात भी गौर करने वाली है कि कंपनी के सफाई कर्मी ना केवल कूड़े को एकत्रित कर निस्तारित कर रही बल्कि शहर को साफ सुथरा बनाने को कई ऐसे कार्य भी करती रहती है जो वैसे तो इनके कार्य क्षेत्र से बाहर है पर हरिद्वार की साफ सफाई के लिए वो पीछे नही हटते।

जैसे कई बार मार्ग में मृत जानवरो को भी कई बार कंपनी कर्मचारियों द्वारा हटाया जाता रहा है। हरिद्वार के धार्मिक नगरी के चलते यहाँ आएदिन धार्मिक आयोजन होते रहते जिसके चलते शहर भर में लाखों के संख्या में यात्री आते है जिस कारण कंपनी जी जिम्मेदारी ओर बढ़ जाती है जिसको पूरा करने के लिए केआरएल नए वाहन भी लेने जा रही है। ताकि शहर की तंग गलियों में भी कूड़े को एकत्रित करने ले लिए वाहन आसानी से पहुच सके।

admin