उत्तराखंड में किसानों के भारत बंद का नही दिख असर, कुछ जिलों तक ही सीमित रह विरोध।

उत्तराखंड कांग्रेस का समर्थन का असर केवल राजधानी तक रहा सीमित।

 

देहरादून(अरुण शर्मा)। उत्तराखंड में किसानों के भारत बंद का मिला जुला असर देखने को मिला।

राजधानी देहरादून के कुछ इलाकों तक बंद का सार दिखाई दिया तो वही हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में में भी इसका कुछ इलाकों में असर दिखा।

उत्तराखंड में किसानों के भारत बंद का नही दिखा असर
उत्तराखंड में किसानों के भारत बंद का नही दिखा असर,हिरासत में।कांग्रेसी

राजधानी देहरादून की बात करे तो एक दिन पहले ही उत्तराखंड कांग्रेस ने इस बन्द को अपनी प्रतिष्ठा का सवाल बना लिया था।

जिसके लिए लगतार सभी जिलों में संपर्क कर किसानों के भारत बंद को सफल बनाने में जुट गई थी।

राजधानी देहरादून में कांग्रेसी व्यापारी भीड़े…..

राजधानी में किसानों के भारत बंद को समर्थन देे चुकी उत्तराखंड कांग्रेस इसे सफल कराने में जुटी दिखी।

पल्टन बाजार में खुली दुकानों को बंद कराने कांग्रेसी पंहुचे जहाँ व्यापारियों से भी दुकानदारों की नोंकझोंक हुई।

कांग्रेसियो ने घंटाघर पर धरना देते हुये केंद्र सरकार व नये कृषि कानून के खिलाफ नारेबाजी भी की है।

जिसके बाद दून पुलिस ने  कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह समेत कांग्रेस के नेताओ को हिरासत में लेकर घंटाघर पर लगे जाम को खुलवाया।

देहरादून पुलिस ने एक दिन पहले ही किसानों के भारत बंद को लेकर अपनी तैयारियां पूरी कर ली थी।

कानून व्यवस्था पर किसी तरह का कोई व्यवधान पैदा ना हो उसको लेकर राजधानी देहरादून को 9 जोन सेक्टरों में बांटा गया था।

जिनमें भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। उत्तराखंड में किसानों के भारत बंद का नही दिखा असर

हरिद्वार में भी कुछ इलाको तक सीमित रह बन्द।

किसानों के भारत बंद को लेकर हरिद्वार में भी खासा असर देखने को नहीं मिला।

हरिद्वार के सीमा से सटे हुए इलाकों में जरूर किसान और congres or aam admi party  कार्यकर्ता सड़कों पर दिखाई दिए।

Haridwar के शहरी इलाकों में बंद का कोई खास असर देखने को नहीं मिला। उत्तराखंड में किसानों के भारत बंद का नही दिखा असर

हरिद्वार में कांग्रेस ने इस बिल के विरोध में केंद्र सरकार के कई जगह पुतले फुके।

उत्तराखंड में किसानों के भारत बंद का नही दिखा असर
उत्तराखंड में किसानों के भारत बंद का नही दिखा असर

बहादराबाद में काली मंदिर तिराहे पर किसानों के भारत बंद आंदोलन के समर्थन में इंटक उत्तराखंड के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री राजवीर चौहान जी के मार्गदर्शन में किसान कांग्रेस एवं इंटक के बैनर पर प्रदेश महामंत्री अमन कुमार व प्रदेश उपाध्यक्ष उधमसिंह चौहान के नेतृत्व में केंद्र सरकार का पुतला दहन प्रदर्शन किया गया l

जिसमें वरिष्ठ कॉन्ग्रेस नेता व इंटक उत्तराखंड के उपाध्यक्ष राजवीर चौहान ने कहा कि केंद्र सरकार लगातार किसान और मजदूरों के विरोध में नीतियां बनाकर किसानों मजदूरों का उत्पीड़न कर रही है।

3 काले कृषि कानून किसानों के विरुद्ध है कांग्रेस देश भर में इन काले कानूनों का विरोध कर रही है।

कांग्रेस एवं देश के मजदूर संगठन हर स्तर पर किसान के साथ खड़े हैं।

लक्सर में किसानों का जाम

लक्सर क्षेत्र में किसानों ने हजारों की संख्या में पहुंच कर शक्ति प्रदर्शन किया।

किसानों ने कहा की सरकार को किसानों लिए लाए गए अध्यादेश वापस लेने होंगे।

सैकड़ों की संख्या में लाए गए।ट्रैक्टरों को सड़क पर लगा कर जाम लगा दिया गया।

आज के इस प्रदर्शन में पुलिस प्रशासन किसानों के सामने बौना साबित हुआ।

नैनीताल में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस उत्तरी सड़कों पर।

नैनीताल में भी किसानों के Bharat Band को लेकर कोई खासा असर देखने को नहीं मिला।

उधम सिंह नगर में आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर उतर कर किसानों के इस भारत बंद को समर्थन दिया। उत्तराखंड में किसानों के भारत बंद का नही दिखा असर

केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की वही उधम सिंह नगर  किसान दिल्ली में किसानों को समर्थन देने के लिए निकले लेकिन पुलिस ने उन्हें सीमा पर रोक दिया।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *