सुपर डिजिटल कंट्रोल रूम से कुछ इस तरह होगी निगरानी

सुपर डिजिटल कंट्रोल रूम से कुछ इस तरह होगी निगरानी

सुपर डिजिटल कंट्रोल रूम से कुछ इस तरह से होगी लोगों की और गाड़ियां की गिनती।

हरिद्वार(अरुण शर्मा)। सुपर डिजिटल कंट्रोल रूम में जानिए क्या है खासियत।

कुम्भ 2021 में सुपर डिजिटल कंट्रोल रूम से मेले में आने वाले लोगों की संख्या सहित कई म्हटवर्ण आंकड़े मेला पुलिस को मिल सकेंगे।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार को इसकी विधिवत शुरुवात की।

कुम्भ मेला पुलिस कंट्रोल भीड़ कंट्रोल करने में तो सहायक है ही साथ ही यह पुलिस कंट्रोल रूम अपने आप मे अचम्भित कर देने वाला है।

यह भी पढ़े-सीएम तीरथ के Happy Birthday पर क्यों खुश हुए बच्चे, जम कर खाई मिठाई रसगुल्ले

इस सम्पूर्ण सिस्टम को artificial intelligence कहा जाता है जिसमे
01-vehicle counting,
02- people counting,
03-Face counting ,
04-crowed counting. की जा सकती है।

सुपर डिजिटल कंट्रोल रूमइसमे vehicle counting, फीचर के माध्यम से बॉर्डर अथवा पार्किंग पर आने वाले अलग अलग प्रकार के वाहनों की गिनती कंट्रोल रूम से कर सकते है।

people counting फीचर गंगा घाटों अथवा में आने वाले श्रद्धालुओं की गिनती की जा सकेगी।

जिससे सुरक्षित कुम्भ संचालन में अनेक प्रकार की सहायता प्राप्त हो पाएगी।

Face mask डिडेक्ट फीचर से कोविड मुक्त कुम्भ के प्रयास में मदद मिलेगी।

यदि किसी स्थान पर कोई बिना मास्क के डिडेक्ट किया जाता है।

तो कंट्रोल तत्काल ही निकटम सुरक्षाकर्मी को सूचना प्रेषित करेगा उसे मास्क पहनने हेतु कहेगा।

इसके अतरिक्त इस सिस्टम में सबसे सशक्त फीचर है

crowed डिडेक्ट यह फीचर यह दर्शाता है कि यदि किसी स्थान पर निर्धारित मानक से अधिक व्यक्ति इकठ्ठा होते है

तो कंट्रोल को अलर्ट अलार्म मिल जाएगा, उस घाट अथवा स्थान को सामान्य आवाजाही में लाया जाएगा।

admin