सुमना रिमझिम ग्लेशियर की दुर्गम परिस्थिति में SDRF का अभियान,15 बॉडी बरामद

सुमना रिमझिम ग्लेशियर की दुर्गम परिस्थिति में SDRF का अभियान,15 बॉडी बरामद

सुमना रिमझिम ग्लेशियर में SDRF का रेस्क्यू जारी, 15 शव बरामद

देहरादून(अरुण शर्मा)। सुमना रिमझिम ग्लेशियर विकट ,विषम ओर विपरीत परस्थिति रेस्कयू में जुटी SDRF

विषम ओर विकट परिस्थिति में चल रहे इस रेस्क्यू अभियान में अब तक 15 शव बमद कर लिए गए है जबकि 10 से अधिक घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा चुका है।

यह भी पढ़े- चमोली में फिर आफत बना ग्लेशियर, सैकड़ो लोग फंसे SDRF ने संभाला मौर्चा

यही नही ग्लेशियर टूटने की इस घटना में 400 से अधिक लोगों को अभी तक सुरक्षित निकाला जा चुका है।

23 अप्रैल को सुमना के करीब रिमझिम ग्लेशियर के टूटने से पुल का निर्माण कार्य कर रहे मजदूरों के दबने और फंसने की घटना हुई,

सुमना रिमझिम ग्लेशियर में रेस्क्यू अभियानSDRF की टीमें तत्काल ही घटना स्थल को इंस्पेक्टर हरक सिंह राणा के नेतृत्व में रिमझिम को रवाना हुई।

चमोली में अत्यंत विकट एवम विषम मौसम के साथ ही अत्यधिक बर्फबारी से रेस्क्यू कठिन चुनौती था।

रेस्कयू टीम रात्रि को ही जोशीमठ से 31 किमी आगे सुराईथोटा पहुंचे जहां ग्रीफ का बेस कैंप मौजूद है।

ग्रीफ बेस कैंप से 31 किलोमीटर आगे मलारी से 16 किलोमीटर आगे सुमना पोस्ट है जहा ग्लेशियर टूटने की घटना घटित हुई थी।

SDRF रेस्क्यू टीम इंचार्ज इंस्पेक्टर हरक सिंह राणा द्वारा सेटेलाइट फोन से बताया कि SDRF की 9 सदस्यीय टीम

बर्फबारी से रास्ता अवरुद्ध होने के कारण पैदल भाप कुंड पहुंची है

ग्रीफ के 20 जवानों के साथ पैदल ही घटनास्थल को रवाना हुई।

टीम द्वारा घटना स्थल में पहुंचकर रेस्कयू कार्य आराम्भ किया, घटना स्थल में SDRF जे अतरिक्त आर्मी, BRO,

ITBP के जवान मौजूद थे सँयुक्त रेस्कयू ऑपरेशन में जुटे हुए है।

admin

Leave a Reply