रेस्क्यू ऑपरेशन जारी-170 लापता, ब्लॉक टनल अभी भी बड़ी चुनौती

रेस्क्यू ऑपरेशन जारी-170 लापता, ब्लॉक टनल अभी भी बड़ी चुनौती

रेस्क्यू ऑपरेशन जारी अभी भी टनल में फंसे लोगो को निकालना बड़ी चुनौती

देहरादून(अरुण शर्मा)। आपदा प्रभावित क्षेत्र के साथ ही अलकनन्दा नदी तटों पर जिला प्रशासन की टीम लापता लोगों की खोजबीन में जुटी हैं।

चमोली आपदा के चौथे दिन भी रेस्क्यू आपरेशन जारी रहा।

खास खबर-बाबा गिरवर नाथ धाम के इस भंडारे का साल भर रहती है सबको प्रतीक्षा,ऐसा क्या है खास पढ़े

अब तक 34 शव मिल गए हैं जबकि 170 लोग अभी लापता हैं।

ऋषि गंगा कम्पनी के 02 व्यक्ति सुरक्षित अपने आवास पर पाए गए हैं।

तपोवन मे टनल मे फंसे लोगो का रेस्क्यू जारी है,यहां पर करीब 25 से 35 लोग टनल मे फंसे है जिनको बचाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है।

रेस्क्यूएसडीआरएफ के 100, एनडीआरएफ के 176, आईटीबीपी के 425 जवान एसएसबी की 1 टीम, आर्मी के 124 जवान,

रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

आर्मी की 02 मेडिकल टीम, स्वास्थ्य विभाग उत्तराखण्ड की 04 मेडिकल टीमें और फायर विभाग के 16 फायरमैन, लगाए गए हैं।

राजस्व विभाग, पुलिस दूरसंचार और सिविल पुलिस के कार्मिक भी कार्यरत हैं।

बीआरओ द्वारा 2 जेसीबी, 1 व्हील लोडर, 2 हाईड्रो एक्सकेवेटर, आदि मशीनें लगाई गई हैं।

आपदा में मृतकों के परिजनों को सहायता राशि अविलंब दी जाएः मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सचिव आपदा प्रबंधन से आपदा राहत कार्यों और सर्च व रेस्क्यू आपरेशन के बारे में जानकारी प्राप्त की।

सीएम ने कहा जिन शवों की शिनाख्त न हो पा रही हो, उनके डीएनए रिकार्ड सुरक्षित रखे जाएं।

आपदा में मृत पुलिसकर्मियों को राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई

मुख्यमंत्री ने तपोवन में भीषण आपदा में मृत हैड कान्स्टेबल मनोज चौधरी और कांस्टेबल बलवीर सिंह गड़िया को नमन करते हुए शोक संतप्त परिवारजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है।
मुख्यमंत्री ने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि आपदा में मृत्यु का होना बहुत दुखद है।

रैणी व तपोवन क्षेत्र में भीषण त्रासदी में सभी मृतकों के प्रति संवदेना प्रकट करते हुए उन्होंने कहा कि लापता लोगों की तलाश के लिए आपरेशन पूरी क्षमता के साथ चलाया जा रहा है।

 

प्रभावित गांवों को राशन और जरूरी सामग्री

आपदा में सडक संपर्क टूटने से सीमांत क्षेत्र के 13 गांवों के 360 परिवार प्रभावित हुए है।

सडक संपर्क से कटे इन गांवो मे हैली से राशन किट, मेडिकल टीम सहित रोजमर्रा का सामन लगातार भेजा जा रहा है।

गांवों मे फसे लोगो को राशन किट के साथ 5 किलो चावल,

5 किग्रा आटा, चीनी, दाल, तेल, नमक, मसाले, चायपत्ती, साबुन, मिल्क पाउडर, मोमबत्ती, माचिस आदि राहत सामग्री भेजी जा रही हैं।

ट्राली से वैकल्पिक व्यवस्था

तपोवन, रैणी, जुआग्वाड मे आवाजाही के लिए ट्राली व वैली ब्रिज से वैकल्पिक व्यवस्था बनायी जा रही है।

admin

One thought on “रेस्क्यू ऑपरेशन जारी-170 लापता, ब्लॉक टनल अभी भी बड़ी चुनौती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *