उत्तराखंड की निर्भया को मिलेगा इंसाफ,सीएम त्रिवेंद्र से मिले माता-पिता

उत्तराखंड की निर्भया को मिलेगा इंसाफ,सीएम त्रिवेंद्र से मिले माता-पिता

उत्तराखंड की निर्भया को मिलेगा इंसाफ सीएम त्रिवेंद्र ने दिया आश्वाशन

उत्तराखंड की निर्भया के माता-पिता ने की सीएम त्रिवेंद्र से मुलाकात

 

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से मुख्यमंत्री आवास में उत्तराखंड की निर्भया (काल्पनिक नाम) के माता-पिता ने भेंट की।

उत्तराखंड की निर्भया को इंसाफ दिलाने का आश्वाशन सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दिया।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखण्ड की बेटी के साथ जो हुआ, वह बहुत दिल दहलाने वाला था।

यह भी पढ़े-मंत्री धन सिंह रावत ने क्यों लगाई अधिकारियों की क्लास

कोई भी बेटियों का पिता या किसी बहन का भाई इस पीड़ा को बहुत अच्छी तरह समझ सकता है।

मुख्यमंत्री ने उनके माता-पिता को आश्वासन दिया कि कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए उनका पूरा सहयोग किया जायेगा।

राज्य सरकार और प्रदेश की जनता पीड़िता के परिवार के साथ है और हर प्रकार की मदद के लिए तैयार है।

मुख्यमंत्री ने उन लोगों का भी धन्यवाद किया जिन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से इस आवाज को उठाया है।

उन्होंने अपील की कि जिस तरह से राज्य वासियों ने पहले भी दिल्ली में न्याय के लिए आवाज उठाने में पीड़ित परिवार का साथ दिया, अब भी इस आवाज को उठाने में पूरा सहयोग करेंगे।

दामिनी के माता-पिता ने जानकारी दी कि 09 फरवरी 2012 को दिल्ली में उनकी बेटी के साथ तीन दरिंदों ने गैंगरेप किया और उसके बाद मर्डर किया।

दिल्ली हाईकोर्ट ने तीनों दोषियों को फांसी की सजा सुनाई थी, वर्तमान में यह मामला माननीय उच्चतम न्यायालय में विचाराधीन है।

उन्होंने कहा कि इन अपराधियों को फांसी की सजा मिलनी जरूरी है, ताकि किसी और के साथ ऐसी दुःखद घटना न घटे।

दामिनी के माता-पिता मूलरूप से पौड़ी जनपद के नैनीडांडा ब्लॉक के मोक्षक गांव के हैं।

admin