गरीब कन्या के विवाह को आगे आया यह संस्थान, किया बाद योगदान

गरीब कन्या के विवाह को आगे आया यह संस्थान, किया बाद योगदान

गरीब कन्या के विवाह में आगे आया हरिद्वार का यह ट्रस्ट,लगातार कर रहा अच्छा काम

हरिद्वार(कमल खड़का)। गिरवर नाथ जनकल्याण धर्मार्थ ट्रस्ट द्वारा श्यामपुर ऋषिके गरीब परिवार की बिटिया की शादी में घरेलू सामान व खादय सामग्री आदि उपहार स्वरूप देकर मदद की।

ट्रस्ट के चेयरमैन कमल खड़का ने बताया कि श्यामपुर ऋषिकेश निवासी आर्थिक रूप से कमजोर परिवार सगाई के दो साल बाद भी बिटीया की शादी नहीं कर पा रहा था।

यह भी पढ़े-अचानक कोविड केयर सेंटर पहुंचे सीएम तीरथ तो उड़ गए अधिकारियों के होश, फिर क्या हुआ पढ़े

इसकी जानकारी मिलने पर उन्होंने ट्रस्ट के अन्य पदाधिकारियों से विचार विमर्श कर मदद करने का फैसला किया। परिवार से संपर्क कर घरेलू सामान व बारातियों के स्वागत के लिए भोजन आदि की व्यवस्था की गयी।

बुधवार को बिटीया की शादी समारोह में पहुंचकर संस्था के सभी पदाधिकारियों व सदस्यों ने वर वधू का आशीर्वाद प्रदान किया।

कमल खड़का ने कहा कि ट्रस्ट गरीब, असहाय निर्धन परिवारों के उत्थान में निरन्तर सहयोग प्रदान कर रहा है। महिलाओं की आर्थिक स्थिति मजबूत बनाने के लिए भी संस्था काम कर रही है।

महिलाओं को उचित सम्मान दिलाने के प्रयास भी किए जा रहे हैं।

बालिकाओं को समान रूप से शिक्षा के अवसर प्राप्त हों। इसको लेकर भी कार्ययोजना तैयार की जा रही है।

ट्रस्ट की सदस्य काजल मल्ल ने कहा कि निस्वार्थ सेवा भाव से ही ट्रस्ट को पहचान मिल रही है।

श्यामपुर की बिटिया को ट्रस्ट के द्वारा मिलजुल कर उपहार प्रदान किए गए।

बेटियां समाज का अभिन्न हिस्सा हैं। बेटियों की परवरिश ठीक रूप से की जानी चाहिए।

बिना भेदभाव के बालिकाओं को अवसर प्रदान किए जाएं। ट्रस्ट महिलाओं व बालिकाओं के अधिकारों के प्रति भी सजगता से काम कर रही है।

निर्धन परिवारों की बेटियों के जीवन स्तर में सुधार लाने के प्रयास भी किए जा रहे हैं।

सपना व पूर्णिमा शर्मा ने कहा कि ट्रस्ट के माध्यम से महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास किए जाएंगे।

सिलाई, कढ़ाई, बुनाई आदि के अवसर प्रदान करने में भी ट्रस्ट निर्णायक भूमिका निभाएगा।

महिलाओं के उत्पीड़न को लेकर भी ट्रस्ट का प्रत्येक सदस्य जागरूकता से काम कर रहा है। आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों की मदद के लिए प्रयास निरंतर जारी रहेंगे।

इस अवसर पर बाबा नन्दलाल महाराज, स्वामी रविदेव शास्त्री, स्वामी हरिहरानंद महाराज, डा.पदम प्रसाद सुवेदी, लोकनाथ सुवेदी, रामप्रसाद,

बिजेंद्र बजाज, बबलू शर्मा, लोक बहादुर मल्ल, श्याम बोहरा, काजल मल्ल, कमला थापा,

रोजी, आशा, अनीता, राकेश, व्यास प्रधान, कमल सेठी, मनोज बिष्ट, जयसिंह, मानवीर चैहान, सपना, पूर्णिमा शर्मा, गीता देवी, सचिन भारद्वाज,

ठाकुर सिंह, योगेश सोनी, दीपक सोनी, सोम भटराई आदि ने सहयोग किया।

admin