चमोली आपदा-बॉडी ही नही मानव अंग भी मिल रहे,अब तक 56 शव-22 मानव अंग बरामद

चमोली आपदा-बॉडी ही नही मानव अंग भी मिल रहे,अब तक 56 शव-22 मानव अंग बरामद

चमोली आपदा में शवो के मिलने का सिलसिला जारी 56 शव मिले,

चमोली(कमल खड़का)। चमोली आपदा में अब तक 56 शव एवं 22 मानव अंग बरामद किए गए।

जिनमे से 30 शव तथा एक मानव अंग की पहचान हुई हैं।

तपोवन अपडेट में sdrf के आंकड़ो में अभी तक टनल में 03 शव,मैठाणा में 01 धड़, श्रीनगर डैम में 01 शव मिले ।

सोमवार को कुल 5 शव बरामद किए गए जबकि एक मानव अंग भी मिला।

आपदा के बाद से कुल प्राप्त शवों की संख्या 56 हुई।
30 शवो की हो चुकी है पहचान।

चमोली आपदा
चमोली आपदा पर गढ़वाल कमिश्नर ने ली समीक्षा बैठक

कमिश्नर गढ़वाल की समीक्षा बैैैजस्व में बैठक में रेक्यु के अभी तक के ये आंकड़े है।

स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान बताया गया कि 7 चिकित्सक दलों के माध्यम से आज 1295 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है।

अभी तक 56 डीएनए सैंपलिंग तथा 57 पोस्टमार्टम की कार्रवाई की गई है।

जबकि प्रभावित क्षेत्र के रिंगी, रेगड़ी, सुराई योथ व रैनी चकलाता में स्वास्थ्य शिविर लगाए गए हैं।

गढ़वाल मंडल आयुक्त रविनाथ रमन ने आईआरएस कैंप कार्यालय में आपदा प्रभावित क्षेत्रों में राहत

बचाव कार्य को लेकर जिला मजिस्ट्रेट स्वाति एस भदौरिया एवं संबंधित अधिकारी के साथ समीक्षा बैठक की।

प्रभावित क्षत्रों में राहत एवं घटना स्थलों पर युद्ध स्तर पर चलाए जा रहे रेस्क्यू ऑपरेशन को लेकर क्रमवार संबंधित अधिकारी से जानकारी ली।

यह भी पढ़े-सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत करेंगे आप ई ही घोषणाओं की खुद समीक्षा।

रैणी क्षेत्र में रेस्क्यू ऑपरेशन की जानकारी लेते हुए, आईटीबीपी, एनडीआरएफ व जिला प्रशासन के टीम को युद्ध स्तर पर रेस्क्यू कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।

आवश्यकता पड़ने पर मशीनों की संख्या बढ़ाने को कहा। उन्होंने तपोवन क्षेत्र में रेस्क्यू ऑपरेशन की समीक्षा के दौरान

एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, एनटीपीसी, आर्मी, पुलिस एवं जिला प्रशासन को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

उन्होंने तपोवन में बैराज साइट, इंटेक्ट एडिट टनल पर उपकरण के सहयोग से मक रिमूवल कार्य व रेस्क्यू ऑपरेशन को युद्ध स्तर पर जारी रखने के निर्देश दिए।

बीआरओ के समीक्षा के दौरान रैणी में बेलीब्रीज़ निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।

इसके अलावा उन्होंने लोनिवि, जलसंस्थन, विद्युत, संचार कार्य प्रगति की जानकारी लेते हुए संबंधित अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

admin