राजधानी में Uttarakhand के प्रथम वेंडिंग जोन बनाने पर किया स्वगात

राजधानी में Uttarakhand के प्रथम वेंडिंग जोन बनाने पर किया स्वगात

हरिद्वार ( विकास चौहान )। उत्तराखंड (Uttarakhand) देहरादून में राष्ट्रीय पथ विक्रेता संरक्षण अधिनियम, उत्तराखंड (Uttarakhand) नगरीय आजीविका मिशन, राज्य फेरी नीति नियमावली को क्रियान्वित करते हुए देहरादून नगर निगम द्वारा जोगीवाला लिंक रोड पर वेंडिंग जोन बनाया गया दिल्ली, कर्नाटक, बिहार, पटना, उत्तर प्रदेश, बरेली, कानपुर की तर्ज पर प्रथम वेंडिंग जोन मॉडल के रूप में दर्शाया गया।

खास खबर :— Mathematics की रोचक संक्रियाओं से गुरूकुल विश्वविद्यालय के छात्रों को कराया अवगत

इस अवसर पर लघु व्यापार एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने कहा उत्तराखंड राज्य बनने के उपरांत 2003 से रेडी पटरी के (स्ट्रीट वेंडर्स) फुटपाथ के लघु व्यापारियों को सामूहिक रूप से संगठित कर उनकी न्याय संगत मांगों के लिए एक लंबा संघर्ष किया है आज किए हुए संघर्ष की बदौलत उत्तराखंड सरकार द्वारा उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में नगर निगम प्रशासन द्वारा एक सार्थक पहल करते हुए मॉडल के रूप में वेंडिंग जोन बनाया गया उस पर वह सरकार के आभारी हैं ठीक इसी प्रकार से उत्तराखंड के सभी नगर निकायों में टाउन वेंडिंग कमेटी की मंजूरी पर वेंडिंग जोन का खाका तैयार किया जाना चाहिए ताकि उत्तराखंड में भारत सरकार के दिशा निर्देश में राष्ट्रीय आजीविका मिशन की भरपाई हो सके और फुटपाथ के लघु व्यापारी अपना सम्मानजनक जीवन जी सकें। उन्होंने सरकार से मांग की धर्मनगरी हरिद्वार में महाकुंभ मेला 2021 को दृष्टिगत रख 2012 से प्रस्तावित 14 वेंडिंग जोनों में लघु व्यापारियों को स्थापित किया जाए ताकि शहर में यातायात की व्यवस्था सही रूप से संचालित हो सके और लघु व्यापारी भयमुक्त व स्वतंत्र रूप से अपना स्वरोजगार कर सकें।

admin