रेस्क्यू में लगे SDRF इंस्पेक्टर की दरियादिली,आपदा पीड़ित की ऐसे की बड़ी मदद

रेस्क्यू में लगे SDRF इंस्पेक्टर की दरियादिली,आपदा पीड़ित की ऐसे की बड़ी मदद

रेस्क्यू में लगे SDRF इंस्पेक्टर की दरियादिली,मानवता के नाते आगे बढ़कर की मदद

देहरादून(अरुण शर्मा)। रेस्क्यू में लगे SDRF इंस्पेक्टर की दरियादिली रैणी गाँव के आपदा ग्रस्त परिवार को दी बड़ी सौगात।

SDRF इंस्पेक्टर हरक सिंह राणा पिछले 7 साल से SDRF को अपनी सेवाएं दे रहे है।

खास खबर-हरिद्वार कुम्भ SOP का हरिद्वार में ही हो रहा विरोध,चौपट व्यापार को थी कुम्भ से उम्मीद

स्वभाव से सरल और सौम्य हरक सिंह अपनी ईमानदारी के लिए SDRF में जाने जाते है।

हरक सिंह इस समय रैणी गांव में रेस्क्यू कार्य मे लगे हुए है।

रेस्क्यू में लगे SDRF इंस्पेक्टर
रेस्क्यू में लगे SDRF इंस्पेक्टर

उनकी सरलता और दरियादिली की बानगी देखिए उन्होंने रेणी त्रासदी से प्रभावित परिवार की मदद के लिए आगे आये।

उन्होंने इस त्रासदी में अपना सब कुछ गंवा चुकी बुजुर्ग महिला और उसकी बेटोयों के दे दिया अपना भवन।

आपको बता दे कि रेणी गाँव की भयानक त्रासदी ने जहां अनेक जिंदगियों को लील लिया था।

वही गाँव के अनेक भवनों को तहस नहस कर लिया , इसी आपदा में 85 वर्षीय सोणा देवी का भवन भी बाढ़ की जद में आकर क्षतिग्रस्त हो गया।

जिस कारण बुजर्ग महिला अपनी पुत्री के साथ रहने की समस्या उत्पन्न हो गयी ।

ऐसी परिस्थितियों में रेस्क्यू में लगे SDRF इंस्पेक्टर हरक सिंह राणा ने स्वयं आगे आकर रेणी गाँव मे स्थित अपना 3 कमरों का भवन महिला को रहने को दिया।

राणा जो विगत 7 साल से SDRF में नियुक्त है अपने सरल एवम सौम्य स्वभाव के साथ ही ईमानदार ऑफिसर में जाने जाते है

वे स्वयं रेणी गाँव के निवासी है एवमं त्रासदी के पश्चात से ही प्रभावित क्षेत्र में रेस्कयू कार्य मे लगे हुए है।

फिलहाल राणा का परिवार वर्तमान में जोलीग्रांट में रहता है।
इंस्पेक्टर राणा के इस कार्य की समस्त गाँव ओर डिपार्टमेंट में सराहना की जा रही है।

नवनीत भुल्लर सेनानायक SDRF ने इंस्पेक्ट हरक सिंह के इस निर्णय की प्रशंसा की।

उन्होंने कहा इस प्रकार के मानवीय कार्यो से पुलिस और समाज के आपसी सम्बन्धो में प्रगाढ़ता आती है ओर आपसी विश्वास की भावना को बल मिलता है।

admin