निर्वेश सैनी छोटे गांव का बड़ा सगप, बच्चियों के लिए बनी प्रेरणाश्रोत

निर्वेश सैनी छोटे गांव का बड़ा सगप, बच्चियों के लिए बनी प्रेरणाश्रोत

निर्वेश सैनी छोटे से गांव का बड़ा सपना, बच्चियों के लिए बनी प्रेरणाश्रोत

निर्वेश सैनी छोटे गांव का बड़ा सपनासुल्तानपुर(नाथीराम कश्यप)। हरिद्वार के छोटे से गांव की बेेटी बनी सबके लिए प्रेरणाा।

हरिद्वार के तिलकपुरी गांव की बेटी निर्वेश सैनी ने सन 2018 में श्रीलंका में आयोजित इंटरनेशनल जूडो-कराटे प्रतियोगिता में 4 देशों के खिलाड़ियों को धूल चटाकर गोल्ड मेडल हासिल किया था।

बेटियों के लिए प्रेरणास्रोत बनी इस बेटी पर क्षेत्र के ही नहीं देश के लोगों को गर्व है।

सुल्तानपुर क्षेत्र के छोटे से गांव तिलकपुरी निवासी किसान की बेटी निर्वेश सैनी बेटियों के लिए प्रेरणा स्रोत बनी हुई है।

इस बेटी ने सन 2018 में श्रीलंका में होने वाली इंटरनेशनल जूडो-कराटे प्रतियोगिता में नेपाल, श्रीलंका, दुबई, आदि चार देशों के खिलाड़ियों को धूल चटाकर गोल्ड मेडल हासिल किया था।

खास खबर-सरकार की तैयारी पर भारी अखाड़ो की अपनी तैयारी, हरिद्वार कुंभ में डाल दी जान

निर्वेश सैनी द्वारा जूडो-कराटे में गोल्ड मेडल हासिल कर गांव और क्षेत्र का ही नहीं बल्कि पूरे देश का नाम रोशन किया था।

इस दौरान श्रीलंका से वापस लौटते समय सैकड़ों ग्रामीणों ने हरिद्वार में निर्वेश सैनी का जोरदार स्वागत किया था,

और उसके बाद ढोल-नगाड़ों के साथ निर्वेश सैनी को उसके गांव तिलकपुरी लेकर आये थे।

निर्वेश सैनी के पिता जसपाल सिंह सैनी किसान थे, इनकी 2013 में मृत्यु हो गई थी।

पिता की मृत्यु के बाद इनकी माता सनीता देवी और बड़े भाई ने खेती कर इनका पालन-पोषण और पढ़ाई का भार संभाला।

निर्देश सैनी के दिनेश कुमार और महिमा दो बड़े पारुल और दीपक दो छोटे भाई-बहन हैं।

निर्वेश सैनी ने कक्षा 6 से दसवीं तक की पढ़ाई कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय रानी माजरा से की।

इसके बाद 11वीं 12वीं भोगपुर राजकीय इंटर कॉलेज और अब बीए की पढ़ाई रूपराज डिग्री कॉलेज रानी माजरा से कर रही है।

निर्वेश सैनी की इस उपलब्धि में माता-पिता भाई-बहन के साथ-साथ उनके कोच रिहान विश्वनाथ राजपूत और करुणा निधि पांडे का भी बड़ा योगदान रहा है।

बच्चियों को कर रही तैयार

निर्वेश सैनी जूडो-कराटे की अपनी तैयारी के साथ भोगपुर, निरंजनपुर, रानी माजरा, जमालपुर, भोआपुर आदि 5 गांव के बच्चों को भी जूडो कराटे सिखा रही है ।

admin

One thought on “निर्वेश सैनी छोटे गांव का बड़ा सगप, बच्चियों के लिए बनी प्रेरणाश्रोत

Comments are closed.