मैट्रोपोल पार्किग नैनीताल को दिलाएगा जाम से निजात।

डीएम नैनीताल सविन बंसल की इस योजना का क्रिसमस और नववर्ष पर मिल सकता है लाभ।

नैनीताल(कमल खड़का)। मैट्रोपोल पार्किग से नैनीताल को मिलेगी जाम से निजात

मैट्रोपोल  पार्किंग डीएम नैनीताल की महत्वकांक्षी योजना है जो लगभग तैयार है।

दरअसल नैनीताल में आने वाले पर्यटकों की भारी संख्या के चलते आए दिन वहां जाम की समस्या रहती है ।

खास खबर-हरिद्वार कुंभ में तैनात होगा कोविड स्पेशल अधिकारी

जिसको देखते हुए जिलाधिकारी नैनीताल सविन बंसल ने मेट्रो मॉल पार्किंग को लेकर एक योजना तैयार की जो अमलीजामा पहन चुकी है।

देश-दुनिया भर में पर्यटक वर्ष भर सरोवर नगरी आते हैं। पर्यटकों की आमद बढ़ने से Nainital शहर में पार्किंग की बड़ी समस्या खड़ी हो जाती हैं।

निर्धारित फ्लेट्स मैदान पार्किंग भर जाने के बाद प्रशासन द्वारा वैकल्पिक रूप से पार्किंग की व्यवस्था शहर से दूर करायी जाती है।

मैट्रोपोल पार्किग नैनीताल
मैट्रोपोल पार्किग का निरीक्षण करते अधिकारी

पार्किंग दूर होने के कारण पर्यटकों को शहर-होटलों तक लाने व ले जाने शटल सेवा लगानी पड़ती है।

इसलिए जिलाधिकारी द्वारा सबल सार्थक प्रयास हैं कि शहर में ही पर्यटकों को एक सुव्यस्थित व सुविधाजनक पार्किंग मेट्रोपोल में शीघ्र मिले।

इसके लिए जिलाधिकारी ने जिला योजना से अथक प्रयासों से प्रावधान कर पीडब्लूडी को 56 लाख धनराशि अवमूक्त की थी।

जिलाधिकारी बंसल के निर्देशों पर शनिवार को एसडीएम विनोद कुमार, सीओ विजय थापा,

अधिशासी अभियन्ता दीपक गुप्ता, नगरपालिका के अधिकारियों द्वारा शनिवार को मैट्रोपोल पार्किग स्थल कार्याें का मौका मुआयना किया

व कार्यदायी संस्था को 25 दिसम्बर से पहले पार्किंग स्थल वाहन खड़े करने हेतु तैयार करने के निर्देश दिये।

ताकि Crismus व new year में आने वाले पर्यटकों के वाहन पार्क किये जा सके।

उन्होंने पार्किग में एन्ट्री व एक्जीट गेट व रोड बनाने के साथ ही विद्युत व्यवस्था कराने के निर्देश दिये।

साथ ही निर्माणाधीन शौचालय के भू-तल को भी उपयोग हेतु बनाने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी सविन बंसल ने माह सितम्बर में मेट्रोपोल परिसर में व्यवस्थित पार्किंग निर्माण हेतु स्थलीय निरीक्षण किया था और सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों से पार्किंग निर्माण हेतु प्रस्तावित भावी कार्य योजना (प्रोस़पैक्टिव प्लान) कार्यों की जानकारी ली थी।

बंसल ने लोनिवि के अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि भावी कार्ययोजना में परिसर को स्थिर व व्यवस्थित पार्किंग स्थल के रूप में विकसित किया जाये।

पार्किंग स्थल की सुन्दरता पर विशेष ध्यान दिया जाये। उन्होंने निर्देश दिए।

कि किसी भी दशा में काम-चलाऊ व्यवस्था नहीं की जाये। पार्किंग स्थल के बाहर की ओर आकर्षक बाउण्ड्री आदि का निर्माण किया जाये।

उन्होंने निर्देश दिए कि मैदान को इस प्रकार समतल करते हुए विकसित किया जाये कि बरसात के मौसम में पानी न रूके और किसी भी प्रकार से फिसलन न हो।

उन्होंने निर्देश दिए कि पानी की निकासी हेतु व्यवस्थित नालियों का निर्माण किया जाये, रेम्प की व्यवस्था की जाये, वाहनों के प्रवेश व निकासी द्वार अलग अलग बनाये जाये।

उन्होंने मेट्रोपोल पार्किंग को इलैक्ट्रोनिक टिकटिंग, आॅटोमेंटिक बेरियर सहित आधुनिकतम तकनीकि से युक्त पार्किंग स्थल के रूप में विकसित करने के निर्देश दिए थे।

उन्होंने हाईटैक शौचालय पर्यटन विकास परिषद् के माध्यम से स्वीकृत कराया था।

सभी कार्य निर्देश धरातल पर उतरते नजर आ रहे हैं जो कार्य पीछले कई दशकों से नहीं हो पाये थे।

वे पीछले छः माह की कार्ययोजना एवं धरातलीय कार्य से साकार नजर आ रहे हैं। इसकी क्षेत्रीय जनता से काफी सराहना की है।

बंसल ने पार्किंग स्थल पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था, मैदान में पड़े नगर पालिका के अनावश्यक एवं बेकार सामान को शीघ्र हटाने के निर्देश अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को दिए।

उन्होंने मेट्रोपोल में खड़ी अनाधिकृत गाड़ियों को तत्काल हटवाने के निर्देश दिए।

बंसल ने निर्देश दिए कि मेट्रोपोल पार्किंग स्थल की भूमि का अधिक से अधिक उपयोग पार्किंग के रूप में किया जाये।

जिससे पार्किंग क्षमता में बढ़ोत्तरी होगी और शहर की सड़कों से वाहनों का दबाव कम होगा।

और अनावश्यक लगने वाले जाम से भी निजात मिलेगी। इसके साथ ही पर्यटकों शहर में ही अतिरिक्त व्यवस्थित पार्किंग की सुविधा मिल सकेगी।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *