उत्तराखंड के पांचवे धाम को सीएम त्रिवेंद्र की अपील और ये बड़ी घोषणा

उत्तराखंड के पांचवे धाम को सीएम त्रिवेंद्र की अपील और ये बड़ी घोषणा

उत्तराखंड के पांचवे धाम के लिए सीएम त्रिवेंद्र रावत ने अपील के साथ कि बड़ी घोषणा।

देहरादून(अरुण शर्मा)। नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125 जयंती उत्तराखंड में भी पूरे धूमधाम से मनाई गई।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस पराक्रम दिवस के रूप में

उत्तराखंड में पांचवे धाम
उत्तराखंड में पांचवे धाम

राजधानी देहरादून में सैन्य धाम का शुभारंभ किया।

पुरकुल गांव में उत्तराखंड के पांचवे धाम के रूप में सैन्य धाम के शिलान्यास किया गया।

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा सेना के शौर्य के प्रतीक सैन्य धाम के भूमि-पूजन के लिए आज से अच्छा दिन नही हो सकता।

सीएम ने शहीदों के परिजनों को दिए जाने वाले अनुदान को ₹10 लाख से बढ़ाकर ₹15 लाख किए जाने की घोषणा की।

खास खबर-स्पीकर प्रेमचन्द अग्रवाल को याद आया गढ़वाल और निकल पड़े दौरे पर

उन्होंने कहा कि राज्य के प्रत्येक शहीद सैनिक के गांव की मिट्टी और शिला, सैन्य धाम के निर्माण के लिए पुरकुल लाए जाने का भी मैंने आग्रह किया है।

मेरा मानना है कि इस सैन्य धाम को आने वाले समय में उत्तराखंड में स्थित पांचवे धाम के रूप में मान्यता मिलेगी

हरिद्वार में भी रही धूम….

हरिद्वार में भी नेताजी सुभाष चंद्र बोस को याद किया गया। हरिद्वार के पंडित गोविंद बल्लभ पंत पार्क में श्री अखंड परशुराम अखाड़ा के नेतृत्व में कार्यक्रम आयोजित किया गया।

जिसमें अखाड़ा परिषद के पूर्व प्रवक्ता बाबा हठयोगी महा मंडलेश्वर प्रबोधानंद महाराज समेत कई साधु-संतों और समाजसेवियों ने नेताजी सुभाषचंद्र बोस को श्रद्धांजलि दी।

इस दौरान संतों ने कहा कि नेताजी आजादी के सच्चे नायक है आज उनकी बदौलत हमारा वजूद ज़िंदा है।

उनके चरित्र को अपने जीवन में शामिल करना चाहिए, उनकी वजह से हमें आजादी मिली है।

आज जो हम खुली हवा में बैठे है वो नेताजी की ही देन है।

वहीँ श्री अखंड परशुराम अखाड़ा के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि देश के वीर शहीदों के दिखाए मार्ग का अनुसरण करना चाहिए।

admin

One thought on “उत्तराखंड के पांचवे धाम को सीएम त्रिवेंद्र की अपील और ये बड़ी घोषणा

Comments are closed.