टिहरी में बीजेपी की राह मुश्किल तो पौड़ी में मुकाबला बन सकता है दिलचस्प

टिहरी में बीजेपी की राह मुश्किल तो पौड़ी में मुकाबला बन सकता है दिलचस्प

देहरादून(ब्यूरो)। उत्तराखंड में भी चुनावी महासंग्राम का बिगुल बज चुका हैं। शुक्रवार को बीजेपी के टिहरी और पौड़ी लोकसभा सीट के प्रत्याशीयों ने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। टिहरी से लोकसभा प्रत्याशी भाजपा प्रत्याशी महारानी माला राज्य लक्ष्मी शाह, पौड़ी से तीरथ सिंह रावत सहित बसपा और यूकेड़ी व करीब 15 प्रत्याशीयों ने नामांकन किया। सोमवार को नामांकन का आखिरी दिन हैं।

खास खबर—पौड़ी गढ़वाल में सीएम त्रिवेंद्र ने ऐसे बचाई शिक्षक की जिंदगी

पौड़ी का रण

शुक्रवार को प्रदेश की पांचों लोकसभा सीटों के चुनावों के लिए नामांकन केंद्रों में रौनक दिखायी दी। पौड़ी संसदीय सीट से भाजपा प्रत्याशी तीरथ सिंह रावत के अलावा उक्रांद के शांति प्रसाद भट्ट और निर्दलीय मुकेश सेमवाल ने नामांकन कराया।

आपको बता दें कि इस सीट पर बीजेपी ने बीसी खंडूड़ी का टिकट काट कर उनके राजनितिक शिष्य तीरथ सिंह रावत को उम्मीदवार बनाया। इस सीट पर खंडूड़ी के बेटे मनीष खंडूड़ी कांग्रेस से ताल ठोक रहे हैं। ऐसे में इस सीट पर मुकाबला दिलचस्प बनता हुआ दिखायी दे रहा हैं।

टिहरी की जंग

वहीं दूसरी ओर टिहरी गढ़वाल संसदीय सीट से भाजपा प्रत्याशी महारानी माला राज्य लक्ष्मी शाह, सीपीआइएम के राजेंद्र पुरोहित और निर्दलीय उम्मीदवार गोपालमणि ने नामांकन पत्र दाखिल किया। राजशाही परिवार की मानी जाने वाली इस सीट पर इस बार बीजेपी की राह आसान नहीं रहने वाली।

निर्दलीय उम्मीदवार गौकथाकार संत गोपालमणि ने भी इस सीट से दावेदारी की हैं। ऐसे में अगर गोपालमणि इस दावेदारी को अंजाम तक पहुंचाने का प्रयास करते है तो नुकसान बीजेपी को उठाना पड़ सकता हैं। ऐसे में कांग्रेस के उम्मीदवार प्रीतम सिंह के लिए राह आसान हो सकती हैं।

admin