भारत-नेपाल की बढ़ती दूरियों के बीच दूल्हा अकेले ले आया नेपाल से दुल्हन,खुल गया अंतरराष्ट्रीय पुल

भारत-नेपाल की बढ़ती दूरियों के बीच दूल्हा अकेले ले आया नेपाल से दुल्हन,खुल गया अंतरराष्ट्रीय पुल

देहरादून(अरुण शर्मा)। भारत और नेपाल की बढ़ती दूरियों के बीच दूल्हा अकेले ही जाकर नेपाल से ले आया दुल्हन।

 

भारत के दूल्हे के लिए खुल गया धारचूला का अंतरराष्ट्रीय पुल ।

 

 

कालापानी, लिपुलेख और लिंपियाधुरा को नेपाल द्वारा अपने नक्शे में शामिल करने और चीन से निकटता के बाद भले ही भारत और नेपाल के राजनीतिक संबंधों में खटास आई हो।

दोनों देशों के रोटी-बेटी के रिश्ते आज भी मधुर ही बने हुए हैं। इस बात की गवाह बनी नेपाल के दार्चुला में हुई एक शादी।

जो भारत के दूल्हे और नेपाल की दुल्हन के बीच हुई। जिसके लिए धारचूला के अंतरराष्ट्रीय पुल को कुछ देर के लिये खोला गया।

दरअसल जाजरदेवल निवासी दूल्हे कमलेश चंद की शादी नेपाल के दार्चुला में तय हुई थी ।

दूल्हे ने भारत और नेपाल प्रशासन से पुल खोलने का अनुरोध किया। जिसके बाद नेपाल और भारत की तरफ ने धारचूला का अंतरराष्ट्रीय पुल कुछ देर के लिए खोला गया।

पुल खुलने के बाद दूल्हा अकेले ही नेपाल गया और वैवाहिक रश्मों को पूरा कर दुल्हन के साथ भारत लौट आया। भारत-नेपाल

शादी के बाद भारत लौटने पर दूल्हे व दुल्हन ने दोनो देशो के प्रशासन का आभार जताया है। भारत-नेपाल

admin