कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चहरे को लेकर हरीश-इंदिरा आमने सामने

कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चहरे को लेकर हरीश-इंदिरा आमने सामने

देहरादून(अरुण शर्मा)। कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चहरे को लेकर रार होनी शुरू हो गई है।

कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चहरे को लेकर रारपूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने जैसे ही सोशल मीडिया पर उत्तराखंड कांग्रेस प्रभारी से सेनापति के नाम की घोषणा किये जाने का ट्वीट किया ।

नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश ने इसका पलटवार करते हुए बयान जारी कर दिया।

उन्होंने हरीश रावत को कांग्रेस की परंपरा याद दिलाते हुए कहा कि कांग्रेस में चुनाव के बाद ही मुख्यमंत्री के चेहरे की घोषणा किये जाने की परंपरा है।

इंदिरा ह्रदयेश ने दूसरे राज्यों में इसी परंपरा का हवाला देते हुए कहा कि इस समय उत्तराखंड में पार्टी के सेनापति प्रीतम सिंह है।

नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने कहा चुनाव में बहुमत आने के बाद कांग्रेस तय करती है चेहरा

खास खबर-योग नगरी स्टेशन पर ट्रेनों की आवाजाही शुरू,इस ट्रेन के पहुंचने पर लोग झूमे

पहले से नहीं घोषित किया जाता है मुख्यमंत्री का चेहरा

कप्तान के तौर पर इस वक्त प्रदेश अध्यक्ष है प्रीतम सिंह

दूसरे राज्यों में भी बहुमत आने के बाद तय किया गया चेहरा

हरीश रावत खुद जानते हैं पार्टी की यह परंपरा।

कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चहरे को लेकर रारआपको बता दे कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने ट्वीट करके प्रदेश प्रभारी से यह मांग की थी।

पढ़े पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने क्या कहा था अपने ट्वीट में…….

#Thank_You #देवेंद्र_यादव जी, आपके बयान ने मेरा मान बढ़ाया। हरीश रावत ही क्यों! प्रत्येक नेता व कार्यकर्ता के बिना 2022 की लड़ाई अधूरी है, पार्टी को बिना लाग लपेट के 2022 के चुनावी रण का सेनापति घोषित कर देना चाहिये, पार्टी को यह भी स्पष्ट कर देना चाहिये कि कांग्रेस की विजयी की स्थिति में वही व्यक्ति प्रदेश का #मुख्यमंत्री भी होगा। उत्तराखंड, वैचारिक रूप से परिपक्व राज्य है। लोग जानते हैं, राज्य के विकास में मुख्यमंत्री की क्षमता व नीतियों का बहुत बड़ा योगदान रहता है। हम चुनाव में यदि अस्पष्ट स्थिति के साथ जायेंगे तो यह पार्टी के हित में नहीं होगा, इस समय अनावश्यक कयास बाजियों तथा मेरा-तेरा के चक्कर में कार्यकर्ताओं का मनोबल टूट रहा है एवं कार्यकर्ताओं के स्तर पर भी गुटबाजी पहुँच रही है। मुझको लेकर पार्टी को कोई असमंझस नहीं होना चाहिये, पार्टी जिसे भी सेनापति घोषित कर देगी मैं उसके पीछे खड़ा रहूँगा। #राज्य में कांग्रेस को विशालतम अनुभवि व अति ऊर्जावान लोगों की सेवाएं उपलब्ध हैं, उनमें से एक नाम की घोषणा करिये व हमें आगे ले चलिये।
Indian National Congress Rahul Gandhi Devender Yadav Indian National Congress Uttarakhand

admin

2 thoughts on “कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चहरे को लेकर हरीश-इंदिरा आमने सामने

Comments are closed.