सीएम फेस को लेकर हरीश रावत
 

सीएम फेस को लेकर हरीश रावत की सोशल मीडिया पर जिद्द का कारण डर तो नही…..

 

देहरादून(अरुण शर्मा)। सीएम फेस को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का एक ओर ट्वीट सोशल मीडया में सुर्खियां बटोर रहा है।

हरदा की सोशल मीडिया पर सीएम फेस को घोषित करने की रट पर अब विपक्षी भी चुटकी लेने से बाज नही आ रहे है।

सीएम फेस को लेकर हरीश रावत
सीएम फेस को लेकर हरीश रावत

लेकिन सवाल यह उठता है कि आखिर हरीश रावत सोशल मीडिया पर सीएम फेस को लेकर आखिर ये जिद्द क्यों पकड़े हुए है?

तो हरदा सीएम फेस घोषित होने के बाद ही करेंगे चुनावी मेहनत !

दरअसल उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव से पहले हरीश रावत का सीएम फेस घोषित कराने के पीछे कई राजनैतिक कारण हो सकते है।

यह भी पढ़े-हरीश रावत की सीएम फेस को लेकर दे दनादन,इन नेताओं को सबक सिखाने की है ठानी

जानकारों की माने तो हरीश रावत अपने पुराने राजनैतिक अनुभव जो उन्हें उत्तराखंड में मिला सबक लेते हुए सीएम फेस घोषित कराना चाह रहे है।

दरअसल जानकार मानते है कि एन डी तिवारी और विजय बहुगुणा जब सीएम बने थे तब उस समय पार्टी के लिए सबसे अधिक मेहनत हरीश रावत ने की थी।

2022 में भी कंही वही किस्सा दुबारा न दोहराया न जाय तो इसलिए वे चाहते है कि चुनावी महासंग्राम से पहले पार्टी उत्तराखंड में सीएम फेस घोषित करे।

जानकार यह भी मानते है कि हरीश रावत अगर सीएम फेस घोषित नही होते है तो वे शायद ही इतनी मेहनत करे जितनी वो इस समय कर रहे है।

खास खबर-कुम्भ मेला पुलिस के लिए मकर संक्रन्ति स्नान था एक ट्रायल,जो रहा सफल

ऐसे में सीएम फेस हरीश रावत होते है तो कांग्रेस के दूसरे धड़े कितनी मेहनत करते है यह बड़ा सवाल खड़ा हो जाता है।

बहरहाल कुछ भी हो हरीश रावत ने सोशल मीडिया पर सीएम फेस घोषित करने की जिद्द पकड़े हुए है, दूसरी तरफ उनके समर्थक अब खुलकर हरीश रावत को सीएम फेस बनाये जाने की मुहिम छेड़ चूके है।

बंशीधर भगत का हरीश रावत पर हमला……

उत्तराखण्ड बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने उनके इन ट्वीट को लेकर जंहा तंज कसा तो साथ ही उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री से सवाल भी पूछ डाले।

बंशीधर भगत ने हरीश रावत ने गैरसैण को लेकर सवाल ओउचते हुए कहा कि उन्होंने अपने मुख्यमंत्री कार्यकाल में गैरसैण को राजधानी घोषित क्यों नही किया।

 

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *