देहरादून(अरुण शर्मा)। उत्तराखंड कांग्रेस की आपसी गुटबाजी एक बार फिर सड़क पर दिखाई दे रही है। इस बार पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी ने अपने पत्र के जरिये अपनी ही पार्टी के नेताओं पर कई सवाल खड़े किए है।

जोशी ने पीसीसी चीफ प्रीतम सिंह को पत्र लिखकर ये सवाल उठाये। उन्होंने नेता प्रतिपक्ष पर निशाना साधते हुए कमजोर विपक्ष को बात कही। मीडिया में लीक हुई इस पत्र को लेकर पार्टी के भीतर की गुटबाजी को एक बार फिर हवा मिली है।

इससे पहले पार्टी के प्रदेश मुख्यालय पर लगे बैनर से पूर्व मुख्य मंत्री हरीश रावत की फोटो गायब होने से गुटबाजी सड़क पर आ गई थी।

प्रकाश जोशी के पत्र के कुछ अंश

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के पूर्व सचिव प्रकाश जोशी अपने पत्र  में लिखा है…..

प्रकाश जोशी ने कहा पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों के विरोधाभासी बयानों से पार्टी बड़ी असहज स्थिति में आ जाती है l

प्रकाश जोशी ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह को लिखा उत्तराखंड सरकार के अव्यवहारिक फैसलों, कुप्रबंधन तथा अदूरदर्शिता के विरोध मे कोरोना संकट के इस काल में हमें एक रचनात्मक विपक्ष की भूमिका निभानी चाहिए! परंतु साथ ही सरकार की नाकामियों पर एकजूटता से मुखर होकर बेनक़ाब करने की भी ज़रूरत है।
कांग्रेस विधायक दल की नेता श्रीमती इंदिरा ह्रदयेश को मुख्यमंत्री कार्यालय से मिले अशोभनीय जवाब पर मुख्यमंत्री को बेनक़ाब करने का मौक़ा इंदिरा जी ने क्यों गँवाया।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *