देवभूमि इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज के छात्रों ने किया टेक्स्टाइल इंडस्ट्रीज का अध्य्यन

देवभूमि इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज के छात्रों ने किया टेक्स्टाइल इंडस्ट्रीज का अध्य्यन
देवभूमि इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज में वस्त्र अध्ययन कार्यशाला का आयोजन
देहरादून(अरुुु शर्म्मा)। देवभूमि इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज के फैशन डिजाइन विभाग द्वारा वस्त्र अध्ययन कार्यशाला का आयोजन किया।

जिसमें कपड़ा उद्योग के विशेषज्ञ श्री यू.एम. जायसवाल,और बी.एस. नेगी ने कपड़े और वस्त्र उधोग से जुड़ी विस्तृत जानकारी छात्राओं को मुहैया करायी।

देवभूमि इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज में वस्त्र अध्ययन कार्यशाला का आयोजन
देवभूमि इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज में वस्त्र अध्ययन कार्यशाला का आयोजन

बी.एस. नेगी ने वस्त्रों के तंतुओं के वर्गीकरण पर गहन व्याख्यान दिया और फाइबर की पहचान की प्रक्रिया का तरीका भी छात्रों को दिखाया।

उन्होंने कहा “जैसा कि प्रत्येक कपड़े अपने गुणों में दूसरे से अलग है, यही वजही है कि कपड़े का विश्लेषण महत्वपूर्ण है।

यही समझ फैशन डिजाइनिंग में अत्यधिक महत्वपूर्ण है जो डिजाइनरों को ऐसे कपड़े चुनने में एक समझदार विकल्प बनाने में मदद करता है जो उनके डिजाइन के पूरक हैं।”

कपड़ा उद्योग में कामकाजी जीवन के बारे में भी छात्रों को जानकारी मिली।

यू.एम. जायसवाल ने परांपरागत हाथ से घूमाने वाले और हाथ से बुने हुए वस्त्र और महंगी महंगी मशीनों युग की मिलों के सेक्टर के बीच के अंतर को भी विस्तारपूर्वक समझाया।
विभाग की प्रमुख दीपा आर्या ने कहा “कपड़ा फैशन उद्योग की रीढ़ है।
एक कपड़े को विकसित करने की प्रक्रिया काफी जटिल है क्योंकि इसे कई प्रक्रियाओं से गुजरना पड़ता है”।
कार्यशाला में सुश्री बुशरा नूर और श्रीमती राखी विरमानी भी उपस्थित रहें।

admin

One thought on “देवभूमि इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज के छात्रों ने किया टेक्स्टाइल इंडस्ट्रीज का अध्य्यन

Comments are closed.