शेरवुड नैनीताल
 

शेरवुड नैनीताल कॉलेज का प्रबंधन विवाद सड़को पर,राविवार को हुआ हंगामा।

कॉलेज प्रबंधन को नियुक्त नए प्रधानाचार्य को गेट पर ही रोका।

 

नैनीताल(अरुण शर्मा)।  शेरवुड नैनीताल का प्रबंधन का विवाद सड़को पर आ गया है।

रविवार को पीटर धीरज इमेन्युअल विशप शेरवुड नैनीताल कॉलेज गेट पर पहुंचे तो ताला लगा होने के चलते गेट पर रुकना पड़ा।

यही नही पुलिस दलबल के साथ शेरवुड नैनीताल कॉलेज के गेट की दूसरी तरफ भी लोग जमा हो गए और पीटर धीरज इमेन्युअल विशप का विरोध करने लगे।

शेरवुड नैनीताल
शेरवुड नैनीताल गेट पर हंगामा

दरअसल गत माह 21 नवंबर को पूर्व प्रधानाचार्य को निलंबित करते हुए नए प्रधानाचार्य की नियुक्ति कर दी थी।

चूंकि मामला न्यायालय में चल रहा था तो कोर्ट ने एक आदेश जारी कर नए नियुक्त प्रधानाचार्य को पुलिस सुरक्षा मुहैया कराने को कहा था।

खास खबर-स्नोफॉल में मुनस्यारी की बेहद खूबसूरत तस्वीर ने लूटा सबका दिल

उसी आदेश के क्रम में आज आगरा डायेसिस की और से घोषित प्रधानाचार्य पीटर धीरज इमेन्युअल विशप डॉ पीपी हाविल,

विधिक सलाहकार सहित अन्य लोगों व तल्लीताल थाना प्रभारी विजय मेहता के साथ मय फोर्स के कॉलेज गेट पर पहुंचे।

और गेट पर ताला लगा होने के कारण वो कॉलेज के अंदर प्रवेश नही कर सकें।

इस दौरान पुलिस और आगरा डायेसिस की तरफ से आये तमाम लोगों ने गेट खुलवाने का अनुरोध किया।

मगर कोई नतीजा नही निकला और गेट के उस पार मौजूद तमाम कर्मचारियों ने जमकर विरोध किया।

इस पूरे प्रकरण पर आगरा डायेसिस के विधिक सलाहकार ने बताया कि 2004 में वर्तमान प्रधानाचार्य अमनदीप संधू को नियुक्त किया गया था।

बीते 21 नवंबर को इनको सस्पेंट कर दिया इनके स्थान पर पीटर धीरज को प्रधानाचार्य नियुक्त किया गया है।

आज हम लोग कॉलेज में चार्ज लेने आये थे मगर हमको अंदर घुसने नही दिया।

वही वर्तमान प्रधानाचार्य अमनदीप संधू नेे इस पूरी घटना को उनके खिलाफ षड़यंत्र का बताया है।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *