देवभूमि संस्थान के छात्रों ने फैशन डिजाइन के विविध पहलूओं पर रखें अपने विचार

देवभूमि संस्थान के छात्रों ने फैशन डिजाइन के विविध पहलूओं पर रखें अपने विचार

देवभूमि संस्थान के छात्रों ने फैशन डिजाइन के विविध पहलूओं पर रखें अपने विचार

देहरादून। देवभूमि इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज के फैशन डिजाइन विभाग द्वारा एक परिचर्चा का आयोजन कि या गया। फ़ास्ट वर्सेस सस्टेनेबल फैशन विषय पर होने वाली इस खुली परिचर्चा में छात्रों ने खुलकर अपने विचार रखे।

यह भी पढ़े -इस बड़े हॉस्पिटल ने बद किया अपना कोविड अस्पताल

फैशन डिजाइन विभाग के छात्र मिल्की सिंह ने बदलते हुए फैशन के नकारात्मक पहलुओं पर अपने विचार रखते हुए कहा कि फ़ास्ट फैशन से उत्सर्जित कचरे से स्वास्थ्य और प्रदूषण पर इसका बुरा प्रभाव पड़ रहा है।

देवभूमि संस्थान के छात्रों ने फैशन डिजाइन के विविध पहलूओं पर रखें अपने विचारविभागाध्यक्ष, दीपा आर्य ने कहा कि “ज्यादातर लोग आकर्षक मूल्य और उभरते रुझानों के चलते अधिक खरीदारी करते है जिनका प्रयोग कुछ समय तक उनके द्वारा किया जाता है। फैशन का भविष्य आने वाले डिजाइनरों पर निर्भर करता है और मुझे लगता है कि उन्हें इस अवसर का उपयोग सकारात्मक बदलाव करने के लिए करना चाहिए।”

इस परिचर्चा का संचालन बुशरा नूर ने किया। परिचर्चा में राखी विरमानी, सहायक प्रोफेसर, अंजलि गुरुंग, आशीष शर्मा, दीपिका रावत, जिज्ञासा रावत, अंशिका पांडे, ईशा कंडवाल, मंदीप कौर, स्मृति अरोड़ा और हर्षिता चौधरी ने भी ऑनलाइन प्रतिभाग किया।

admin