एक दिन की सीएम सृष्टि गोस्वामी पड़ी पत्रकारों पर भी भारी-देखें वीडियो

एक दिन की सीएम सृष्टि गोस्वामी पड़ी पत्रकारों पर भी भारी-देखें वीडियो

एक दिन की सीएम सृष्टि गोस्वामी ने की विभागों की समीक्षा,पत्रकारों को भी चौंकाया।

देहरादून(कमल खड़का)। एक दिन की सीएम सृष्टि गोस्वामी ने आज जंहा सरकार के 13 विभागों की समीक्षा की।

तो वही सृष्टि ने पत्रकारों के भी तीखे ओर गंभीर सवालों के भी बखूबी जवाब दिए।

सृष्टि गोस्वामी राविवार को बाल सदन में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की जगह सीएम की भूमिका में थी।

पत्रकारों पर भी भारी सृष्टि गोस्वामी

बाल सदन के बाद एक दिन की सीएम सृष्टि गोस्वामी ने पत्रकारों के तीखे ओर गंभीर सवालों का भी सामना किया।

देखें वीडियो में पत्रकारों के सवालों का सामना करती सृष्टि…….

सृष्टि ने महिला सुरक्षा से लेकर बालिका विकास पर अपनी राय भी पत्रकारों के सामने रखी।

राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर एक दिन की सीएम सृष्टि गोस्वामी की अध्यक्षता में विधान सभा में बाल विधायक सदन का आयोजन किया गया।

बाल सदन में विभिन्न विभागों की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी और 13 विभागों ने अपना विभागीय प्रस्तुतिकरण दिया।

खास खबर-सीएम त्रिवेंद्र ने दिया आशा कार्यकर्ताओं को दोहरी खुशी

विभागीय समीक्षा और प्रस्तुतिकरण से पहले एक दिन की सीएम की अनुमति से बाल सदन का आयोजन किया गया।

जिसमें नेता प्रतिपक्ष आसिफ हसन ने सदन में सरकार के समक्ष प्रश्न उठाये।

जिनका सृष्टि गोस्वामी और उनके मंत्री और बाल विधायकों ने नेता प्रतिपक्ष के सवालों का उत्तर दिया।

एक दिन की सीएम सृष्टि गोस्वामी ने सदन में महिला एवं बाल संरक्षण तथा विभिन्न विकास कार्यो के सम्बन्ध में महत्वपूर्ण सुझाव साझा किये।

उन्होने बालिकाओं को विद्यालय आने जाने के लिए वाहनों में सुरक्षित माहौल बनाने,

धरेलू हिंसा, नशाखोरी और बाल अपराधों पर लगाम लगाने तथा महिलाओं को सूरक्षित,

सहज और सर्व स्वीकार्य वतावरण बनने के सुझाव दिये।

इसके पश्चात बाल विकास विभाग (ICDS) द्वारा विभागीय प्रस्तुतिकरण प्रस्तुत करते हुए महिला, बच्चों, दिव्यंगजनों,

निराश्रितों आदि के हित में सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनओं तथा उनके कल्याण के लिए उठाये गये इनिसिएटिव से अवगत कराया।

इस दौरान महिला व बच्चों से सबन्धित अपराध तथा उनका उन्मूलन तथा महिला एवं बच्चों के समुचित विकास के लिए उठाये गये कदमों की बात कही।

लोक निर्माण विभाग द्वारा राज्य में किये जा रहे पुल, सडक, तथा अन्य सम्पर्क निर्माण कार्यो से अवगत कराया।

सिंचाई विभाग द्वारा सूर्याधार झील तथा अन्य संचालित व निर्मित्त की जा रही परियोजनाओं का प्रस्तुतिकरण दिया गया।

पुलिस विभाग द्वारा अपराधों की प्रकृति तथा उनके उन्मूलन हेतु उठाये गये प्रयासों तथा अभिनव स्टेप्स से अवगत कराया।

उन्होने बाल अपराध की रोकथाम, साईब्रर क्राईम रोकथाम, नशा मुक्ति अभियान, औपरेशन सत्य, तथा बाल तस्करी मुक्ति हेतु औपरेशन स्माईल के उदाहरण प्रस्तुत किये।

इसके अतिरिक्त उधोग, उरेडा, स्मार्ट सिटी, शिक्षा, आदि विभागो ने भी विभागीय प्रस्तुतिकरण दिया।

इस दौरान उच्च शिक्षा मंत्री (आज के मुख्यमंत्री प्रतिनिधि) ने अपने सम्बोधन में कहा कि इस तरह के आयोजन से बालिकाओं के आत्म विश्वास में वृद्धि होती है।

साथ ही सरकार की कार्यशैली तथा उनकी विश्ष्टि प्रक्रियाओं से व्यवहारिक रूप मे अवगत होने का भी अवसर प्राप्त होता है।

अध्यक्षा उत्तराखण्ड बाल अधिकार संरक्षण आयोग उषा नेगी ने भी अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड का आभार व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि बालिकाओं व बच्चों को इस तरह के बाल सदन में अवसर देने पर उनको जीवन में और आगे बढने और कुछ करने की प्रेरणा मिलती है।

साथ ही शासकीय और प्रशासनिक क्रियाविधि की भी स्पष्ट जानकारी प्राप्त होती है।

admin

One thought on “एक दिन की सीएम सृष्टि गोस्वामी पड़ी पत्रकारों पर भी भारी-देखें वीडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *