हेमवन्ती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय का दीक्षांत समारोह ।

दीक्षांत समारोह में ऑनलाइन छात्रों को बांटी गई डिग्रियां ।

 

श्रीनगर(ब्यूरो)। हेमवन्ती नंदन बहुगुणा गढ़वाल केन्द्रीय विश्वविद्यालय का दिक्षात समारोह का आनलाईन आयोजन हुआ।

हेमवन्ती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय का आठवां दिक्षात समारोह विश्वविद्यालय के प्रेक्षाग्रह में संपन्न हुआ।

दिक्षांत समारोह में 44 होनहार छात्रो की स्क्रीन पर उनकी फोटो दिखाकर आनलाईन गोल्ड मेडिल देकर सम्मानित किया गया।

यह भी पढ़े-नैनीताल हाईकोर्ट ने सभी cmo को क्यों दिया अवमानना का नोटिस

साथ ही 1117 पीजी, 12 एमफिल व 137 पीएचडी छात्रो को डिग्री दी गयी।

जिसमे मुख्य अतिथि केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक आनलाईन मौजूद रहे।

हेमवन्ती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय
हेमवन्ती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय

पूरा आयोजन आनलाइन आयोजन किया गया जिसमें विश्वविद्यालय के कुपलपति अन्नपूर्णा नौटियाल भी आनलाईन उपस्थित रही।

खास खबर-शिक्षिका भावना कुकरेती ने कैसे किया उत्तराखंड का नाम रोशन

कार्यक्रम की शुरुवात दीप प्रज्वलित करके की गयी।

मंच पर विष्वविद्यालय के कुलसचिव टिहरी परिसर के कुलपति व विश्वविद्यालय के समस्त एचओडी मौजूद रहे।

कोरोना के सभी नियमो का पालन करते हुए समारोह आयोजित किया गया।

दिक्षांत समारोह में 44 होनहार छात्रो की स्क्रीन पर उनकी फोटो दिखाकर आनलाईन गोल्ड मेडिल देकर सम्मानित किया गया।

साथ ही 1117 पीजी, 12 एमफिल व 137 पीएचडी छात्रो को डिग्री दी गयी।

15 गोल्ड मेडल दानदाताओ द्वारा दिये गये।

वहीं इस मौके पर मानव रमेश पोखरियाल निशंक ने आनलाईन सभी छात्र-छात्राओं को बधाई दी।

वहीं उन्होने कार्यक्रम आयोजित करवाने को लेकर विष्वविद्यालय की तारीफ भी की।

उन्होंने कहा कि हेमवती नंदन बहुगुणा विश्विद्यालयक कैम्पस पूरे भारत मे सबसे सुंदर है।

निशंक ने कहा आज उपाधि पाने वाले छात्र कल भारत का भविष्य है और उन्हें ही भारत को आगे लेकर जाना है।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *