बाबा गिरवर नाथ धाम पर भक्तों का जमावड़ा,दरबार की है यह खूबी

बाबा गिरवर नाथ धाम पर भक्तों का जमावड़ा,दरबार की है यह खूबी

हरिद्वार(कमल खड़का)। 1 जनवरी से 10 फरवरी तक 40 दिनों का चिलिया खत्म आज से लेंगे बाबा नन्दलाल अन्नजल राजस्थान करोली खालसा में बाबा गिरवर नाथ धाम मन्दिर में आज विशाल भंडारा का आयोजन बड़े धूमधाम से किया गया। हर साल की भांति इस वर्ष भी ग्राम करोली खालसा रामगढ़ अलवर मे देश के कोने कोने से भक्त बाबा गिरवर नाथ महाराज का विशाल भंडारे में प्रसाद और आर्शीवाद लेने पहुंचें। आपको बता देे कि गददी महाराज अपने 40 दिन के चिलिया पूर्ण होने इस भंडारे प्रसाद का आयोजन की यह परंपरा वर्षो पुरानी हैं।

खास खबर—जहरीली शराब बड़ा खुलासा,उत्तर प्रदेश से ऐसे आयी थी जहरीली शराब

हरबार की तरह आज की शुरुआत सुबह हवन से हुई शुरुआत भगवान के भजन चारो तीर्थ धाम आपके………. भोले को कैसे मनाऊं रे मेरा भोला…….. सावली सूरत पे मोहन दिल दीवाना……….. आज तो कैलाश मै बाज रहे घुंगरू नाच रहे भोले बाबा……….

हर साल की भांति इस वर्ष भी विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। बाबा के सेवक भंडारा का प्रसाद ग्रहण करने के लिए दूर दराज आज विशाल भंडारा मै देश के कई प्रांतो जैसे लुधियाना जालंधर अमृतसर फतेहगढ़ चुडिया पटियाला रेऊ पुन्हाना पलवल दिल्ली हथीन खटीमा पीलीभीत से भक्त बाबा के दरबार में पहुंचे। देश विदेश से भी श्रद्वालु भंडारे मे गुरु महाराज का आशीर्वाद व प्रसाद ग्रहण करने पहुंचे।

बाबा का चिलिया
आपको बता दें कि नन्दलाल महाराज बार की तरह 1 जनवरी से 10 फरवरी तक 40 दिन के चिलिया पर बैठै। चिलिया मे महाराज कुछ भी नहीं लेते है शिवाय पानी के 40 दिन का चिलिया 10 फरवरी को पूरा होता हैं। महराज के चिलिया पूरा होने पर भंडारे का आयोजन किया जाता हैं। बाबा चिलिया पूरा होने के बाद प्रसाद ग्रहण करवाने के बाद भगवान को भोग लगाकर खुद अन्न ग्रहण करते हैं। आपको बता दें कि नन्दलाल जी महाराज के दादा श्री गिरवर नाथ जी महाराज उनके पिता पृथ्वीराज जी कई बार 40—40 दिन के चिलिया करते रहते रहे थे। भगवान के प्रति भक्ति ही मुख्य उद्देश्य है हर साल मंदिर मे कई बार भंडारा आयोजित होता हैे। जिसमें देश के अलग—अलग जगहों से श्रद्वालु आर्शीवाद ग्रहण करने यहां पहुंचते हैं।

admin