प्रदुषित होती Ganga केवल उत्तर भारत की समस्या नहीं पूरे भारत की समस्या:— Pawan Kalyan

प्रदुषित होती Ganga केवल उत्तर भारत की समस्या नहीं पूरे भारत की समस्या:— Pawan Kalyan

हरिद्वार (विकास चौहान)। गँगा(Ganga) नदी की निर्मलता और अविरलता के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर देने वाले पर्यावरणविद, ज्ञान स्वरूप सानंद की पहली पुण्यतिथि पर हरिद्वार के पावन धाम आश्रम श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गई। श्रद्धांजलि सभा मे जल पुरुष राजेन्द्र सिंह , दक्षिण फिल्मजगत के मशहूर अभिनेता पवन कल्याण समेत कई वैज्ञानिक और गँगा (Ganga) प्रेमी शामिल हुए जिन्होंने श्रद्धा सुमन अर्पित कर स्वामी सानंद को श्रद्धांजलि दी।

खास खबर :— Chardham छड़ी का हरकी पौड़ी पर संतो का पूजन,मुख्यमंत्री कर करेगें रवाना

इस दौरान जल पुरुष राजेंद्र सिंह ने कहा कि स्वामी सानंद ने गँगा नदी की रक्षा के लिए आमरण अनशन कर अपने प्राण न्योछावर किये थे , उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा , उनके निर्मल अविरल गँगा के सपने को पूरा करने के लिए समाज और राज दोनों को जगाने की जरुरत है। यदि सरकार ने उनकी माँगो को पूरा नहीं किया तो गँगा प्रेमियों द्वारा उनका अनशन जारी रहेगा।
गौरतलब है कि पिछले साल स्वामी ज्ञान स्वरुप सानंद ने गँगा के लिए आमरण अनशन किया था और अनशन के दौरान ही उनकी मृत्यु हो गई थी। गँगा प्रेमियों द्वारा उनकी श्रद्धांजलि दिवस के अवसर पर उनको श्रद्धांजलि दी गई। श्रद्धांजलि दिवस पर हरिद्वार पहुंचे दक्षिण फ़िल्मी सुपरस्टार पवन कल्याण ने स्वामी सानंद के जीवन पर आधारित डॉक्यूमेंट्री बनाने की बात कही है। स्वामी सानंद से प्रभावित पवन कल्याण ने कहा कि प्रदूषित होती नदियां केवल उत्तर भारत की ही समस्या नहीं है ये दक्षिण समेत पुरे भारत की समस्या है। देश की नदियों को बचाने के लिए जागरूकता की आवश्यकता है और इसकी शुरुआत वो गँगा नदी से करेंगे।

admin