सोमवती अमावस्या शाही स्नान पर अखाड़ो के अदभुत रंग

सोमवती अमावस्या शाही स्नान पर अखाड़ो के अदभुत रंग

सोमवती अमावस्या शाही स्नान पर अखाड़ो के अदभुत रंग

हरिद्वार(अरुण शर्मा)। सोमवती अमावस्या शाही स्नान पर अखाड़ो का अदभुत रंग देखने को मिला।

पेशवाई में जंहा नागाओं के करतब और म्हांडलेश्वरों कि पालकी के दर्शन को लोग घंटो घंटो सड़क किनारे खड़े रहे।

वहीं हर की पौड़ी को आम जन के लिए स्नान के लिए ओरी तरह प्रतिबंधित किया हुआ था।

खास खबर-ऑनलाइन और ऑफ लाइन दोनों मोड़ में पढ़ाएंगे कॉलेज

महाकुंभ मेले का दूसरा शाही स्नान है शाही स्नान के अवसर पर सोमवती अमावस्या होने से विशेष योग हैं।

इसी कारण हरकी पौड़ी पर सुबह से ही बड़ी संख्या में श्रद्धालु गंगा स्नान कर पुण्य लाभ कमा रहे थे।

सोमवती अमावस्या शाही स्नानभारी संख्या में कुम्भ मेला क्षेत्र में पुलिसकर्मियों की तैनाती के बीच अखाड़े स्नान करते दिखे।

आईजी संजय गुंज्याल और मेलाधिकारी दीपक रावत ने भी गंगा में आगमन कर माँ गंगा का आशीर्वाद लिया।

लक्ष्मी नारायण की तबियत बिगड़ी

शाही स्नान में भाग लेने के दौरान किन्नर अखाड़ा प्रमुख लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी की अचानक तबीयत बिगड़ गई।

जिसके बाद उन्हें एंबुलेंस पर बिठाकर अस्पताल रैफर कर दिया गया।

बता दें गंगा स्नान के बाद किन्नर अखाड़ा प्रमुख लक्ष्मी नारायण जैसे ही गंगा सभा कार्यालय से आगे निकली वैसे ही उनकी तबीयत बिगड़ गई।

और वह लड़खड़ाने लगी जिसके बाद सर पर हाथ रखते हुए वह कुछ कदम आगे बढ़ी

लेकिन अचानक उनके भक्तों ने उन्हें संभाला बाद में प्रशासन ने एंबुलेंस में उन्हें अस्पताल के लिए रैफर कर दिया।

हाल ए ऋषिकेश

कुंभ के पहले शाही स्नान सोमवती अमावस्या पर ऋषिकेश में भी लोगों ने कुंभ स्नान किया कोरोना के चलते त्रिवेणी घाट पर श्रद्धालुओं की संख्या बहुत कम रही।

पुलिस प्रशासन ने पहले ही स्नान घाटों और मुख्य मार्गों पर जवानों की तैनाती की हुई थी।

जगह जगह रूट भी डायवर्ट किए गए जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामना भी करना पड़ा

शाही स्नान को देखते हुए ऋषिकेश में भी पुलिस ने रूट डायवर्ट कर दिए थे

त्रिवेणी घाट पर सुबह ही स्थानीय श्रद्धालुओं ने सोमवती अमावस्या का स्थान किया

मंदिरों में भी सुबह से ही श्रद्धालु पूजा-अर्चना और दान पूर्ण करते हुए नजर आए बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को सीमा पर कोरोना रिपोर्ट के बाद एंट्री दी जा रही थी।

हरिद्वार जाने वाले रास्तों पर बैरियर लगाकर नेपाली फार्म चौराहे पर सभी वाहनों को रोक दिया गया

कई लोग पास दिखाते नजर आए उनको भी हरिद्वार जाने की इजाजत नहीं दी गई हालांकि पुलिसकर्मी उन्हें हाथ जोड़कर समझाते नजर आए

निजी वाहनों की आवाजाही पर पुलिस प्रशासन ने रोक लगा दी है हालांकि पुलिस का दावा है कि यहां से शटल बस चलाई जा रही है

जिन भी श्रद्धालुओं को कुंभ उत्थान के लिए हरिद्वार जाना है वह बस से जा सकते हैं

लेकिन शटल बस भी इक्का-दुक्का ही थी श्रद्धालुओं की भीड़ के हिसाब से यह सुविधा भी नाकाफी साबित हो रही है।

admin

One thought on “सोमवती अमावस्या शाही स्नान पर अखाड़ो के अदभुत रंग

Comments are closed.