हरिद्वार(विकास चौहान)। आगामी कुंभ (Kumbh) 2021 को लेकर हरिद्वार वन महकमे ने भी अपनी कमर कस ली है। आये दिन आबादी क्षेत्र में घुसने वाले वन्य जीवों को रोकने के लिए महकमा कई योजनाओ पर काम करने जा रहा है। सबसे पहले हाथियों को महकमा रेडियो कॉलर लगा कर आबादी वाले क्षेत्रो में आने से रोकने का प्रयास करेगा।
कुम्भ (Kumbh) मेला क्षेत्र का दायरा बढ़ाये जाने के बाद से वन महकमे के लिए वन्य जीवों को मेला और आबादी क्षेत्र में आने से रोकना वन महकमे के लिए कड़ी चुनौती बना हुआ है । जिसके लिए महकमे ने कई प्रस्ताव बनाकर मेला प्रशासन को भेजे थे जिसमें सबसे प्रमुख हाथियों को मेला और आबादी क्षेत्र में आने से रोकना है । दरसल कुम्भ मेले के दौरान बनाये जाने वाले कुम्भ नगर क्षेत्र को नील धारा तट से कांगड़ी गॉव तक बढ़ाया गया है । इस बढ़े हुए क्षेत्र में कई जगह से हाथी व अन्य वन्य जीव जंगलो से निकल कर गंगा पार करते हुए आबादी वाले क्षेत्रों में घुस कर वहां के किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचाते हैं । कई बार इस दौरान वन्य जीव मानव संघर्ष भी देखने को मिलता है । इस संघर्ष को रोकने के लिए महकमे ने यहां आने वाले हाथियों की पहचान कर उनको रेडियो कॉलर लगाने की योजना बनाई है। जिसके तहत जल्द ही इन हाथियों को रेडियो कॉलर लगा कर आबादी क्षेत्र में आने से रोका जाएगा ।फिलहाल वन महकमे द्वारा 10 हाथियों को रेडियो कॉलर लगा कर इसकी शुरुवात की जाएगी ।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *