हर की पैड़ी पर खास कुर्सी कराएगी दिव्यांगों गंगा आचमन

हर की पैड़ी पर खास कुर्सी कराएगी दिव्यांगों गंगा आचमन

हरिद्वार(कमल खड़का)। हर की पैड़ी पर अब दिव्यांग जन बिना किसी परेशानी के कर सकेंगे गंगा का आचमन।

जी हां हरिद्वार कुंभ में मेला प्रशासन ने यह पहल की है जिसमे दिव्यांग लोगों को ध्यान में रखते हुए इसकी शुरुआत की गई है।

घाट पर ही आटोमेटेड हैंड ऑपरेटेड व्हील चेयर व रैंप की सुविधा की गई है।

खास खबर-हरिद्वार कुंभ मेला प्रशासन की बड़ी परेशानी को दूर किया इस बड़ी संस्था ने,दीपक रावत हुए खुश

इससे वे स्वयं द्वारा संचालित कुर्सी में बैठकर रैंप से होकर गंगा जल का आचमन खुद ही कर सकेंगे।

हर की पैड़ी पर आचमन होगा आसानउन्होंने हरकी पैड़ी पर दिव्यांगों के लिए बने आटोमेटेड व्हील चेयर व रैंप को देखकर उसका ट्रायल स्वयं भी किया तथा इस सुविधा की सराहना की।

इस ऑटोमेटेड व्हील चेयर व रैम्प की कीमत 3 लाख रुपए बताई जा रही है।

मेलाधिकारी दीपक रावत ने कहा कि अब हरकी पैडी पर देश-विदेश से कुम्भ स्नान को आने वाले दिव्यांग व बुजुर्ग भाई-बहनों को मां गंगा के आचमन में कोई दिक्कत नहीं आएगी।

दीपक रावत ने तत्पश्चात हरकी पैड़ी पर बने श्री गंगा सभा के नवनिर्मित कार्यालय का उदघाटन भी किया।

उन्होंने श्री गंगा सभा के अध्यक्ष प्रदीप झा, महामंत्री तन्मय वशिष्ठ व स्वागत मंत्री सिद्धार्थ चक्रपाणि आदि के साथ कार्यालय में स्थित मंदिर में मां गंगा व मां सरस्वती की पूजा की।

कार्यालय में प्रवेश करने से पूर्व उन्होंने कन्या पूजन किया। जम्मू से आई बालिका श्रेया ने सबसे पहले कार्यालय में कदम रखा।

इसके बाद मेलाधिकारी व गंगा सभा के पदाधिकारियों ने कार्यालय में पहुंचकर गंगा आरती की।

श्री गंगा सभा के पदाधिकारियों ने मेलाधिकारी दीपक रावत व अन्य को गंगाजलि व प्रसाद भेंट किया।

मेलाधिकारी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि हरकी पैड़ी पर भूमिगत तारों का कार्य लगभग पूरा हो चुका है।

हरकी पैड़ी पर दिव्यांगों के लिए हैंड आटोमेटेड व्हील चेयर और आटोमेटेड रैंप से दिव्यांगजन घाट पर सीधे गंगाजल का आचमन कर सकते है।

उन्होंने कहा कि हरकी पैड़ी पर महिला व पुरुषों के लिए अलग-अलग काफी संख्या में चेजिंग रूम बन चुके हैं।

जिन्हें आवश्यकतानुसार स्नान को आने वाले श्रद्धालु प्रयोग कर सकेंगे।

admin

One thought on “हर की पैड़ी पर खास कुर्सी कराएगी दिव्यांगों गंगा आचमन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *