हर की पौड़ी पर गंगा स्नान को आती है दिव्य आत्माएं
 

हर की पौड़ी पर गंगा स्नान को आती है दिव्य आत्माएं।

इससे पहले भी हर की पौड़ी पर पुराने लेख वाले पत्थर भी मिले थे।

तीर्थ पुरोहितों ने इसे बताया शुभ, उनका मानना है कि आज भी आती है दिव्य आत्माएं गंगा स्नान को।

हरिद्वार(कमल खड़का)। हर की पौड़ी पर गंगा स्नान के लिए आती है दिव्य आत्मा।

हर की पौड़ी पर गंगा स्नान को आती है दिव्य आत्माएं
हर की पौड़ी पर गंगा में रहस्मय पैरोक निशान

हर की पौड़ी की सीढ़ियों पर उभरे पद चिह्न को लेकर हरिद्वार में कौतूहल बना हुआ है।

हर की पौड़ी के ब्रह्मकुंड पर पैरों के निशान मिलने की सूचना तीर्थ पुरोहितों को दी गई।

मौके पर पहुँचकर तीर्थ पुरोहितों ने इसकी पूरी तस्दीक की।

तीर्थ पुरोहित उज्ज्वल पंडित ने बताया कि जब पद चिन्ह की सूचना दी गई तो उसके बाद मौके पर आककर देखा गया।

उन्होंने बताया कि गंगा के अंदर सीढ़ियों पर एक चरण के निशान दिखे जो आज से पूर्व दिखाई नहीं दिए थे जिनका साइज लगभग 10 नंबर के पैर के जैसा प्रतीत हो रहा है।

उन्होंने बताया कि हमने अपने कर्मचारियों के माध्यम से उस पर बेसिन पाउडर तथा पत्थर आदि से घिसवाया भी लेकिन कोई भी फ़र्क उस निशान पर नहीं पड़ा है।

उज्ज्वल पंडित बताते है कि अभी कुछ दिन पूर्व भी बहुत पुरानी लिखी के पत्थर भी हर की पौड़ी स्थल पर पाए गए थे।

जो यह इस बात का प्रमाण हैं कि यह दिव्य स्थल आज भी देवी देवताओं के आकर्षण एवं तप स्थल बना हुआ है।

जहाँ जाने अनजाने किसी भी रूप मेंआज भी दिव्य आत्माएँ यहाँ पर आकर गंगा स्नान एवं तप करती हैं।

पंडित आगे बताते है कि 2021 में लगने वाले कुम्भ के सभी स्नान इसी पवित्र स्थल पर सम्पन्न होने है ।

स्नान पर्वों से पूर्व यह दिव्य चरण के दर्शन शुभ भविष्य की ओर इशारा कर रहे हैं।

 

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *