गंगोत्री धाम के लिए मनसा देवी मंदिर ने की ये बड़ी व्यवस्था,लॉक डाउन होगा ये काम

गंगोत्री धाम के लिए मनसा देवी मंदिर ने की ये बड़ी व्यवस्था,लॉक डाउन होगा ये काम

हरिद्वार(अरुण शर्मा)। कोरोना का कहर और पूरे देश में चल रहें सम्पूर्ण लॉक डॉउन के बीच उत्तराखण्ड की चारधाम की यात्रा प्रारम्भ होने जा रही है।

खास खबर—सावधान-राजधानी की सड़को पर थूका तो भरना पड़ सकता है जुर्माना,मास्क पहनना भी है अनिवार्य

श्रीगंगोत्री धाम के रावल शिवप्रकाश आज हरिद्वार पहुंचे ।जहां उनका मां मनसा देवी ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं श्रीनिरंजनी पंचायती अखाड़े के सचिव, महंत रविन्द्र पुरी महाराज ने आज पूर्ण विधिविधान के साथ स्वागत-सत्कार के साथ किया।

इस अवसर पर गंगोत्री धाम के रावल शिवप्रकाश महाराज ने पत्रकारों को बताया कि इस बार गंगोत्री धाम के कपाट आगामी अक्षय तृतीया 26 अप्रैल को पूरे विधिविधान के साथ खोले जाएगें।

परन्तु इस बार कोरोना वायरस के चलते पूरे देश में लॉक डॉउन में होने वाली पूजा विधान पूरे सोशल डिस्टेंशिग का अनुपालन करते की जाएगी।

उन्होंने बताया कि 25 अप्रैल को मुखीमठ से गंगा जी की डोली प्रारम्भ होगी जो भैरव घाटी रात्री विश्राम के बाद 26 अप्रैल को गंगोत्री धाम पहुंचेगी।

*वहीं पंचायती अखाड़ा श्री निरंजनी के सचिव एवं मां मनसा देवी मंदिर के अध्यक्ष रविन्द्र पुरी ने बताया कि जब तक लॉक डॉउन जारी रहेगा

तब तक मां गंगा जी के श्री गंगोत्री धाम का समस्त खर्चा मां मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट द्वारा वहन किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि जब पूर्व में भी चार धाम की यात्रा प्रारंभ होती थी तो यात्रा से पूर्व श्रद्धालु जन मां मनसा देवी मंदिर में पहुंचकर चार धाम यात्रा के लिए आज्ञा लेकर यात्रा प्रारंभ करते थे ताकि उनकी यात्रा सकुशल संपन्न हो।

अब संपूर्ण देश में लोक डाउन की स्थिति होने के कारण मां गंगोत्री धाम का अनुग्रह मां मनसा देवी के पास आया, और मां मनसा देवी ने इस अनुग्रह को प्रेम पूर्वक स्वीकार किया।

महंत रवींद्र पुरी ने बताया कि जब तक की लोक डाउन की स्थिति रहेगी मां गंगोत्री धाम के समस्त राजभोग प्रसाद एवं भोजन की व्यवस्था मां मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट के निर्देशानुसार अनवरत जारी रहेगी ।

इस अवसर पर महंत रवींद्र पुरी ने बताया की आगामी 22 अप्रैल को एक ट्रक राशन एवं अन्य सामग्रियों को लेकर श्रीगंगोत्री धाम के लिए रवाना किया जाएगा।

श्री गंगोत्री धाम के रावल शिवप्रकाश महाराज ने श्री गंगोत्री धाम में लाकडाउन अवधि के दौरान राशन,सामग्री एवं राजभोग प्रसाद आरती की व्यवस्था करने के लिए मां मनसा देवी मंदिर ट्रस्ट एवं श्री महंत रवींद्र पुरी का आभार व्यक्त किया।

उन्होंने पत्रकारों को बताया की 25 अप्रैल को ठीक 12:30 पर मां भगवती गंगा जी की उत्सव डोली मुखीमठ से गंगोत्री धाम के लिए प्रस्थान करेगी और रात्रि ‘विश्राम भैरव घाटी और 26 को प्रातः से श्री गंगा जी का षोडशोपचार पूजन श्री गंगा सहस्त्रनाम गंगा लहरी पाठ वैदिक परंपरा के अनुसार 12.35 पर मां भगवती के कपाट खोल दिए जाएंगे और निरंतर पूजा-अर्चना चलती रहेगी आगे कोराना नामक महामारी से देश नहीं अपितु पूरा विश्व ग्रसित है इस वजह से आम श्रद्धालुओं को अभी केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा जैसा भी आदेश करेगी उसी के पश्चात दर्शन कर सकेंगे।
परंपरा है गंगा सप्तमी जो गंगा जी का अवतरण दिवस भी है हम लोग बहुत ही धूमधाम से मनाते थे इस बार वह भी हम लोग सूक्ष्म उचित डिस्टेंस रखते हुए इस परंपरा की जो अनुसार पूजा अर्चना पद्धति और गंगा जी के पावन चरणों में प्रार्थना करेंगे हमारा देश ही नहीं अपितु पूरा विश्व इस महामारी से जल्द से जल्द मुक्ति प्रदान करें और इसी के साथ सभी धर्म प्रेमियों से अनुरोध करूंगा कि सप्तमी के दिन आप लोग भी अपने घरों में गंगा जी की आराधना करें क्योंकि रोग से मुक्त प्रदान करने वाली गंगा जी अवश्य हमारी प्रार्थना सुनेगी

इसी के साथ मैं हमारे देश के सुरक्षाकर्मी व स्वास्थ्य विभाग डॉक्टर जितने भी स्टाफ जो इस महामारी के समय दिन रात एक कर के देश की सेवा कर रहे हैं मैं उन सभी के उज्जवल भविष्य की कामना करता हूं और उन सभी को बहुत-बहुत धन्यवाद व आशीर्वाद प्रेषित करता हूं।

admin