हरिद्वार महाकुंभ से पहले मेला भूमि के लिए निकाला गया यह फार्मूला

हरिद्वार महाकुंभ से पहले मेला भूमि के लिए निकाला गया यह फार्मूला

देहरादून(अरुण शर्मा)। हरिद्वार महाकुंभ से पहले मेला भू​मि से जुड़ा मामला सुलझा लिया जायेगा। इसके लिए उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड ने मिलकर एक फार्मूला निकाला हैं। रविवार को उत्तर प्रदेश की पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने मुख्यमंत्री से मुलाकात कर इस बारे में चर्चा की। मुख्यमंत्री ने इस मामले में मेला क्षेत्र बिना प्रभावित हुए इस मामले को निपटाने के निर्देश भी अधिकारीयों को दिये।

खास खबर—बद्रीना​थ धाम के कपाट खुलने की तारिखों का हुआ ऐलान

हरिद्वार महाकुंभ से पहले मेला भूमि से जुड़ा मामला पहले ही निपटा दिया जायेगा। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से रविवार को मुख्यमंत्री आवास में उत्तर प्रदेश की पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी से मुलाकात के बाद सीएम ने अधिकारीयों कोे निर्देश जारी ​कर दिये हैं। मुलाकात में हरिद्वार महाकुंभ के अलकनन्दा परिसर के समीप उत्तराखण्ड व उत्तर प्रदेश के मध्य लैण्ड ट्रांसफर व अलकनन्दा परिसर में बनने वाले यूपी के पर्यटक आवास गृह के मामले पर चर्चा की गई।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि मेला क्षेत्र प्रभावित न हो इसके लिए भूमि स्थानान्तरण सबंधी जो मामला है उसका शीघ्र निस्तारण किया जाए। मेला क्षेत्र की उत्तर प्रदेश की भूमि उत्तराखण्ड को स्थान्तरित होगी जबकि उतनी ही भूमि उत्तर प्रदेश को अन्य स्थान पर दी जायेगी। मुख्यमंत्री ने एचआरडीए के अधिकारियों को निर्देश दिये कि अलकनन्दा परिसर में उत्तर प्रदेश द्वारा जो पर्यटक आवास गृह बनाया जा रहा है, उसके नक्शे की तकनीकि खामियों का निस्तारण करवाकर जल्द पास किया जाय। जिससे निर्माण कार्य जल्द पूरा किया जा सके।

admin