गुरु नानक की जयंती की पूर्व संध्या पर किया गया याद

गुरु नानक की जयंती की पूर्व संध्या पर किया गया याद

गुरु नानक की जयंती की पूर्व संध्या पर बांटी राशन

प्रेम चंद अग्रवाल ने गुरु नानक के प्रयासों को किया याद

ऋषिकेश(कमल खड़का)। गुरु नानक की जयंती की पूर्व संध्या पर आज विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने जरूरतमंदों को राशन किट बांटी।

गुरु नानक की जयंती
गुरु नानक की जयंती की पूर्व संध्या पर राशन वितरण

श्री गुरु सिंह सभा, ऋषिकेश के पदाधिकारियों के साथ संयुक्त रूप से बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर 61 जरूरतमंदों को राशन किट का वितरण किया ।

इस अवसर पर अग्रवाल ने कहा है कि मानव कल्याण एवं सभी जातियों के सम्मान व महिला सशक्तिकरण को लेकर गुरु नानक देव जी ने जीवन पर्यंत संघर्ष किया ।

यह भी पढ़े-उत्तराखंड में कोरोना की बढ़ रही रफ्तार,शनिवार को 13 की मौत

उन्होंने कहा है कि समाज में व्याप्त कुरीतियों को दूर करने के लिए श्री गुरु नानक देव ने पारिवारिक जीवन व सुख का त्याग करते हुए दूर-दूर तक यात्राएं की।

उन्होंने लोगों के मन में बस चुकी कुरीतियाँ को दूर करने की दिशा में काम किया ।

उपेक्षित, वंचित एवं जरूरतमंदों को राशन वितरण के अवसर पर अग्रवाल ने गुरु नानक के उपदेश को रेखांकित करते हुए कहा है कि उन्होंने हमेशा समाज के कमजोर वर्ग को ऊंचा उठाने के लिए प्रयास किया ।

प्रेमचन्द ने कहा है कि गुरु नानक ने सार्थक जीवन के तीन संदेश दिए- भगवान का नाम जप करना, कड़ी मेहनत करना और जरूरतमंदों की मदद करना यह उनके तीन उपदेशों में शामिल है।

ओबीसी मोर्चा के मंडल अध्यक्ष से मुलाकात…..

ओबीसी मोर्चाविधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल के बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर आज ओबीसी मोर्चा के मंडल अध्यक्ष निर्वाचित होने पर जितेंद्र पोखरियाल ने शिष्टाचार भेंट की एवं आशीर्वाद प्राप्त किया।

इस अवसर पर अग्रवाल ने आशा व्यक्त करते हुए कहा की संगठन द्वारा योग्य कार्यकर्ता का चयन कर ओबीसी मंडल के अध्यक्ष की जिम्मेवारी सौंपी है।

उस जिम्मेवारी का निर्वहन सक्रियता, लग्न एवं निष्ठा के साथ होना चाहिए। जिससे सरकार द्वारा किए जा रहे कार्य आम लोगों तक पहुंच सके।

अग्रवाल ने कहा है कि अंतिम व्यक्ति तक सरकार की योजनाओं का लाभ कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी ही पहुंचाते हैं।

सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के लाभ से कोई भी व्यक्ति वंचित न रहे इसकी जवाबदेही पार्टी के पदाधिकारियों की होती है ।

उन्होंने कहा है कि ओबीसी के क्षेत्र में अत्यंत काम करने की आवश्यकता है ।

इसलिए जितेंद्र पोखरियाल का चयन संगठन के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है।

admin