बिना श्रद्धालुओं के खुले गंगोत्री धाम के कपाट, घर बैठे करे दर्शन

बिना श्रद्धालुओं के खुले गंगोत्री धाम के कपाट, घर बैठे करे दर्शन

बिना श्रद्धालुओं के खुले गंगोत्री धाम के कपाट, घर बैठे दर्शन के लिए राज्य सरकार ने की व्यवस्था

 

उत्तरकाशी(कमल खड़का)। यमनोत्री धाम के बाद शनिवार को गंगोत्री धाम के कपाट भी पूरे विधि विधान के साथ खोल दिये गए।

कोविड की गाइडलाइन के साथ बिना श्रद्धालुओं के कपाट खोले गए।

यह भी पढ़े- हरिद्वार कुंभ को संतो ने कुछ इस तरह कहा अलविदा

सुबह 7.31 पर पूरे धार्मिक विधि विधान के साथ धाम के कपाट खोले गए।

आपको बता दे कोविड के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए सरकार ने चारधाम यात्रा को स्थगित कर दिया था।

लेकिन चारधाम मंदिरों के कपाट समय से खोलने को कहा था। जिसमे बिना श्रद्धालुओं के पुजारी ओर तीर्थ पुरोहितों की उपस्थिति में कपाट खोले जाने की बात कही।

विश्वप्रसिद्ध हिमालयी धाम गंगोत्री के कपाट आज शनिवार को निर्धारित मुहूर्त पर सुबह 7.31 बजे विधि विधान एवं धार्मिक अनुष्ठान के साथ खोले गए।

बैशाख शुक्ल तृतीया की शुभ बेला में गंगोत्री मंदिर का कपाटोद्घाटन हुआ।

बिना श्रद्धालुओं के खुले गंगोत्री धाम के कपाट, घर बैठे दर्शन के लिए राज्य सरकार ने की व्यवस्थाकोरोना संक्रमण को देखते हुए केवल तीर्थ पुरोहित और प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में ही धाम के कपाट खोले गए।

आज से तीर्थ पुरोहित सीमित संख्या में गंगोत्री मंदिर में नियमित रूप से मां गंगा की पूजा अर्चना करेंगे।

कोरोना संक्रमण के बीच जन स्वास्थ्य को सर्वोपरि रखते हुए फिलहाल चारधाम यात्रा स्थगित की गई है।

सीएम तीरथ सिंह रावत ने कहा कि मेंरी मां गंगा से प्रार्थना है कि कोरोना महामारी से सभी को सुरक्षित रखने के लिए अपना आशीर्वाद बनाए रखें।

मानव जाति को जल्द से जल्द कोरोना संक्रमण से मुक्ति मिले। हमारा देश और प्रदेश फिर से प्रगति की राह पर अग्रसर हो सके।

admin