सुल्तानपुर ( नाथीराम)। मोबाइल (mobile) लेने को लेकर फतवा गांव निवासी दो भाइयों के बीच पहले कहासुनी फिर मारपीट हो गई। इस विवाद में बड़ा भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे उपचार के लिए अस्पताल ले जाते समय उसकी मौत हो गई। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर उसे पीएम के लिए भेज दिया है।

खास खबर—संतो को मनाने हरिद्वार पहुंचे Chief Minister , जानिए किन विषयो पर की चर्चा

सुल्तानपुर क्षेत्र के फतवा गांव में बृहस्पतिवार रात्रि करीब 10 बजे शेर सिंह पुत्र हरिया और उसके छोटे भाई धर्मेंद्र सिंह के बीच मोबाइल लेने को लेकर कहासुनी हो गई । ग्रामीणों का कहना है कि कहासुनी बढ़ने पर दोनों भाइयों में मारपीट होने लगी। इसी दौरान छोटे भाई धर्मेंद्र सिंह ने पास में रखे डंडे को उठा लिया और अपने बड़े भाई शेर सिंह पर वार कर दिया। डंडा शेर सिंह के सिर में लगने से वह गंभीर रूप से घायल हो गया। दोनों भाइयों के बीच मारपीट होते देख परिवार के अन्य सदस्य भी मौके पर पहुंच गए, और किसी तरह दोनों को छुड़ाया। परिजनों ने शेर सिंह की हालत गंभीर देखते हुए उसे उपचार के लिए एक निजी अस्पताल में ले गए। जहां पर डॉक्टर ने उसकी हालत गंभीर देखते हुए उसे हायर सेंटर ले जाने की सलाह दी। बताया जा रहा है कि हायर सेंटर ले जाते समय रास्ते में ही शेर सिंह पुत्र हरिया उम्र 30 वर्ष की मौत हो गई। डॉक्टर ने शेरसिंह को देखते ही उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजन शेरसिंह के शव को लेकर वापस गांव आ गए। किसी ग्रामीण ने मामले की जानकारी भिक्कमपुर पुलिस को दी। शेरसिंह की मौत की खबर सुनते ही भिक्कमपुर पुलिस चौकी प्रभारी आशीष शर्मा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे, और शव का पंचनामा भरकर पीएम के लिए भेज दिया है। भिक्कमपुर पुलिस चौकी प्रभारी आशीष शर्मा ने बताया कि शेर सिंह पुत्र हरिया निवासी ग्राम फतवा उम्र 30 वर्ष के सिर में चोट लगने के कारण मौत हो गई। शेरसिंह के शव का पंचनामा भरकर पीएम के लिए भेज दिया गया है। पीएम की रिपोर्ट आने के बाद मामले की जांच कर कार्यवाही कि जायेगी ।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *