लक्सर(जाने आलम)। लक्सर कोतवाली क्षेत्र के महाराजपुर कला गांव निवासी पंकज को उसके सगे साले ने बेरहमी से हत्या कर शव के टुकड़े कर डाले। जीजा पंकज द्वारा हत्या करने वाला नीटू बहन पर हो रहे अत्याचार को सहन ना कर सका हो वह अपने ही जीजा का हत्यारा(Killer) बन गया। लक्सर कोतवाली पुलिस ने आरोपी नीटू को गिरफ्तार कर लिया है साथ ही उसकी निशानदेही पर क्षत विक्षत शव को बरामद कर लिया। आरोपी नीटू को इतनी भी दया नही आई कि उसने अपने ही जीजा की हत्या करके शव को नदी में फेंक दिया, कुछ दिन बाद शव तैरने लगा तो शव कई टुकड़े कर डाले और खेत मे दबा दिया। मृतक का कटा हुआ सिर अभी तक बरामद नही हो पाया है।

लक्सर सीओ राजन सिंह ने प्रेस वार्ता कर बताया कि मृतक पंकज थाना कोतवाली लक्सर में 13 सितंबर को गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी। पुलिस ने टीम बनाकर पंकज की छानबीन शुरू कर दी थी। इस मामले में चार लोगों के नाम सामने आए थे चारों को उठाकर पूछताछ की गई तो पूछताछ में पंकज जो कि मृतक का सगा साल है वो ही हत्यारा निकला। हत्यारे नीटू कबूल किया कि उसका जीजा, उसकी बहन के साथ अक्सर मारपीट करता था जिसको कई बार पहले समझाया भी गया लेकिन वह नहीं माना। उसके अत्याचार और ज्यादा बढ़ते ही गए इसी को लेकर उसने अपने जीजा की हत्या कर दी । नीटू की निशानदेही पर हत्या में प्रयोग किए गए हथियार भी बरामद कर लिए हैं। सीओ राजन सिंह ने बताया कि नीटू ने पहले उसने अपने जीजा को शराब पिलाई और जब काफी नशा हो गया तो अपने सिद्धडू गाँव ले जाकर गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई और पास की नदी में शव को फेंक दिया गया और जब तीन-चार दिन बाद शव ऊपर आ गया तो पहचान छुपाने के लिए उसके तीन टुकड़े करके गन्ने के खेत में दबा दिया। हालांकि अभी तक मृतक पंकज की कटी हुई गर्दन बरामद नहीं हो पाई है।
आपको बताते चलें कि पंकज की शादी 10 वर्ष पूर्व लक्सर कोतवाली क्षेत्र के सिधडू गांव में हुई थी पंकज को 3 बच्चे भी हैं बड़ी बेटी 9 साल और दो जुड़वा बेटे जिनकी उम्र 5 साल है। इन मासूम बच्चों के सर से कंस मामा ने ही पिता का साया उठा दिया है। लक्सर पुलिस ने हत्या का खुलासा करते हुए आज हत्यारे को जेल भेज दिया।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *