कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठगते थे लाखो-उत्तराखंड पुलिस ने दबोचा

कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठगते थे लाखो-उत्तराखंड पुलिस ने दबोचा

देहरादून(अरुण शर्मा)। कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठगी करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

 

STF/साईबर क्राईम पुलिस ने तमिलनाडू के तिरुवेनवेली कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठगी करने वाले 02 साईबर क्रिमिनल गिरफ्तार किया।

कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठगी
कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठगी

साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन उत्तराखण्ड से दक्षिण भारतीय राज्यों में साईबर अपराधियों की तलाश की जा रही थी।

खास खबर-शीतकालीन सत्र के पहले क्या रहा खास

जिसके लिए एक टीम तमिलनाडु भेजी गई जिसने तमिलनाडू से 02 साईबर अभियुक्तो को गिरफ्तार किया।

पकड़े गए आरोपियों को 05 दिन की ट्राजिट रिमाण्ड पर लेकर वापस देहरादून आ गयी है ।

STF/साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन की टीम द्वारा अथक मेहनत व लगन से देश भर में ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के नाम पर संचालित संगठित गिरोह का फंंदा । खुलाााााससा हुुुआ।

देहरादून से लगभग 2,900 कि.मी. दूर जाकर साइबर अपराधी को पकड़ने वाली पुलिस टीम के प्रभारी पंकज पोखरियाल ने बताया कि

उनकी टीम को दक्षिण भारतीय राज्यो में अपराधियों की तलाशने में कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा है ।

कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठगी
कौन बनेगा करोड़पति के नाम पर ठगी करने दो लोगों को पकड़ा

उन्होंने बताया सबसे अधिक परेशानी भाषा से सम्बन्धित थी, स्थानीय लोगों से अपराधियों की पतारसी सुरागरसी हेतु वार्ता करने पर कई स्थानीय व्यक्ति अग्रेजी भाषा नही बोल पाते थे।

स्थानीय राज्य की तमिल भाषा पुलिस टीम के समझ में नही आती थी ।

तमिलनाडू राज्य में अधिकाशंतः शहरों के नाम व संकेत चिन्ह स्थानीय भाषा में थे जिससे एक स्थान से दूसरे स्थान में जाने में काफी परेशानी हुयी।

अपराधी को गिरफ्तार करने पर स्थानीय कोर्ट में ट्राजिट रिमाण्ड लेने में भी अभियोग से सम्बन्धित दस्तावेजों हिन्दी भाषा में होने के कारण न्यायिक कार्यवाही पूरी करने में काफी मसक्तत करनी पड़ी ।

आरोपियों से प्राप्त जानकारी के आधार पर अन्य साईबर अपराधियों की तलाश की जा रही है ।

कुछ इस तरह खिलाते थे करोड़पति का खेल

अभियुक्तगण आम जनता को फोन (वाट्सअप) पर KBC में लाटरी जीतने का लालच देते है।

लोगों से वाट्सअप कॉल के माध्यम से सम्पर्क कर रजिस्ट्रेशन शुल्क, बैंक शुल्क, इनकम टैक्स आदि के नाम पर मोटी रकम वसूल करते है।

फर्जी आईडी के जरिये जनता के सीधे साधे लोगो से फ्रॉड करते है ।

STF की अपील…...

STF उत्तराखण्ड ने जनता से अपील की है कि वे किसी भी प्रकार के ऑनलाईन लक्की ड्रॉ, डिस्काउन्ट, लॉटरी के प्रलोभन में न आयें ।

पहले ऐसे किसी भी ऑफर की जांच करें, +92***** अथवा +971***** नम्बरो से आने वाले फोन / वाट्सअप कॉल द्वारा दिये गये किसी भी प्रकार के लॉटरी/ लालच में न आये ।

कोई भी शक होने पर तत्काल निकटतम पुलिस स्टेशन या साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून से सम्पर्क करें।
संपर्क: 0135-2655900
email ccps.deh@uttarakhandpolice.uk.gov.in
फेसबुक – https://www.facebook.com/cyberthanauttarakhand/

admin