बेरोजगार से नौकरी के नाम पर फिल्मी स्टाइल में ठगी,STF ने धरा

बेरोजगार से नौकरी के नाम पर फिल्मी स्टाइल में ठगी,STF ने धरा

बेरोजगार से नौकरी के नाम पर फिल्मी स्टाइल में ठगी,STF ने धरा

देहरादून(अरुण शर्मा)। बेरोजगार को नौकरी के नाम पर फिल्मी स्टाइल में करता था ठगी।

Stf और साइबर क्राइम ने दबोचा।

बेरोजगार को नौकरी के नाम पर देशभर में अब तक ठगे हजारों बेरोजगार।

खास खबर-मसूरी में गिरने वाली है बर्फ, बर्फ के शौकीन के लिए अच्छी खबर

बढ़ते साईबर अपराधों के परिप्रेक्ष्य में साईबर अपराधी आम जनता की गाढ़ी कमाई हड़पने हेतु अपराध के नये-नये तरीके अपनाकर धोखाधड़ी कर रहे है ।

ठगों का बेरोजगार युवक/यवतियों से “नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी” करने का मामला।सामने आया।

शिकायत प्राप्त होने पर प्रभारी एसटीएफ द्वारा गोपनीय जांच भी करवायी जा रही थी ।

मामलेे में देहरादून निवासी एक व्यक्ति ने शिििका की उनके साथ Food Corporation of India (FCI) विभाग में 10 लाख रुपये में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी हुुुई।

जिसमे उसे FCI का आई0 कार्ड व ज्वानिंग लैटर भी दिया गया ।

बेरोजगार से नौकरी के नाम पर फिल्मी स्टाइल में ठगी,STF ने धरा
बेरोजगार से नौकरी के नाम पर फिल्मी स्टाइल में ठगी,STF ने धरा आरोपी

उसके अनुसार उसका फर्जी तरीके से प्रशिक्षण भी गोरखपुर उ0प्र0 मे करवाया गया।

बाद मे जब ज्वाइनिंग लैटर मे अंकित तिथि को शिकायतकर्ता द्वारा अभियुक्तो से फोन किया तो उन्होने फोन नही उठाया।

इस पर शक होने पर जब शिकायतकर्ता द्वारा Food Corporation of India (FCI) विभाग देहरादून मे जाकर आई0कार्ड व ज्वानिंग लैटर* के सम्बन्ध में पता किया तो फर्जी पाये गये।

मामला दर्ज होने के बाद इस मामले की जांच stf और साइबर क्राइम को दी गई

जिसके बाद एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया और उससे गहनता से पूछताछ की गई।

पूछताछ में कई अहम खुलासे अभियुक्त के द्वारा किये गए।

कई अहम खुलासे

पूछताछ में उसने बताया कि वह और उसके अन्य साथी मिलकर देश के विभिन्न राज्यो में जब भी प्रमुख संस्थाये भर्ती आने पाार बेरोजगारोंं से संपर्क करते थे।

उनको FCI, Railway, AIIMS आदि में *नौकरी लगाये जाने का प्रलोभन* देकर उनसे लाखो रुपये प्राप्त करते है।

व अभ्यर्थियो को शक न हो इसके लिये उनकी *फर्जी ट्रेनिगं, पुलिस वेरिफिकेशन, मेडिकल व इंटरव्यू* आदि भी करवाते है।

आरोपी ने खुलासा किया कि सम्बन्धित विभागो की फर्जी ई-मेल आईडी से उन्हे मैसेज करते है।

ये लोग उन्हें फर्जी आई0 कार्ड व ज्वानिंग लैटर डाक के माध्यम से व व्यक्तिगत रुप से देते है।

जिसमे अब तक लाखो रुपये मेरे और मेरे सहयोगियों द्वारा धोखाधड़ी से प्राप्त किये गये है।

अभियुक्त द्वारा बताये गये विभिन्न बैंक खातो को फ्रीज कराया गया है व उनकी जांच की जा रही है ।

प्रकरण में प्रकाश में आये अन्य अभियुक्तो की तलाश की जा रही है ।

उत्तराखण्ड राज्य के साथ ही अन्य राज्यो से इस प्रकार की धोखाधड़ी से सम्बन्धित प्रकरणो व पीड़ितो की जानकारी प्राप्त की जा रही है ।

अपराध का तरीका-

अभियुक्तगणो द्वारा बेरोजगार लड़के व लडकियों को FCI, Railway, AIIMS आदि मे नौकरी लगाने के नाम पर उनसे लाखो रुपये अपने अपने बैंक खातो मे प्राप्त करना व कई बार नौकरी मांगने वालो बेरोजगार युवको के खातो मे पैसे मंगवाकर फिर स्वंय उस पैसे को ले लेना।

बेरोजगार लडके लडकियो का *लखनऊ, गोरखपुर, दिल्ली* आदि जगहो पर फर्जी तरीके से पुलिस वेरिफिकेशन, मेडिकल, training, Interview कराना

उन्हे फर्जी Joining letter, पहचान पत्र देना, व सरकारी विभागो की फर्जी ईमेल आईडी बनाकर बेरोजगार को उस ई-मेल आईडी से नौकरी के सम्बन्ध मे मेल करना।

 

admin

One thought on “बेरोजगार से नौकरी के नाम पर फिल्मी स्टाइल में ठगी,STF ने धरा

Comments are closed.