मौत की मधुशाला में बड़ा खुलासा,उत्तर प्रदेश से ऐसे आयी थी जहरीली शराब

मौत की मधुशाला में बड़ा खुलासा,उत्तर प्रदेश से ऐसे आयी थी जहरीली शराब

देहरादून(अरुण शर्मा)। जहरीली शराब से मौत के मामले में नया मोड़ सामने आया हैं। हरिद्वार के भगवानपुर में जहरीली शराब उत्तराखंड की नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश में बनी थी। यह दावा उत्तराखंड के आबकारी आयुक्त दीपेंद्र चौधरी का हैं। यही नहीं जहरीली शराब के मामले में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के अधिकारीयों ने झबरेड़ा में डेरा डाला हुआ हैं। जानकारी के अनुसार दोनो प्रदेशों के पुलिस अधिकारी गोपनीय तरीके से इस मामले में मिटिंग कर रहे हैं। आपको बता दें इस घटना के बाद से सरकार ने अवैध शराब के खिलाफ अभियान चलाने के सख्त निर्देश दिये थे।

खास खबर—डबल इंजन सरकार के भ्रस्टाचार के खिलाफ लड़ाई के दावे हवाई-आशीष

मौत की मधुशाला में जहरीली शराब उत्तराखंड की नहीं उत्तर प्रदेश में बनाई गई थी। उत्तराखंड आबकारी आयुक्त की माने तो पकड़े गये शराब तस्करों से हुई पूछताछ में यह बात सामने आयी हैं। दीपेंद्र चौधरी ने बताया कि अवैध शराब के खिलाफ चल रहे अभियान में पकड़े गये तस्करों से पूछताछ में खुलासा हुआ है कि हरिद्वार जिले के भगवानपुर में परोसी गयी जहरीली शराब उत्तर प्रदेश के सहारनपुर से तस्करी कर लायी गयी थी। बहरहाल इस खुलासे ने आबकारी विभाग के अवैध शराब तस्करी को लेकर किये जा रहे प्रयासों की पोल जरुर खोल दी हैं।

बहरहाल इस खुलासे के बाद उत्तर प्रदेश की ओर किसी तरह की प्रतिक्रिया का इंतजार है। आपको बता दें कि इस मामले मे सहारनपुर से भी कई लोगों की मौत हुई थी।

गोपनीय बैठक

उत्तराखंड और यूपी पुलिस जहरीली शराब के मामले में झबरेड़ा थाना में डेरा डाले हुए हैं। जानकारी के अनुसार सहारनपुर के एसपी देहात, देवबंद सीओ , रुड़की एसपी देहात, सीओ मंगलौर पुलिस कर्मियों के साथ गोपनीय बैठक कर जहरीली शराब और उसके कारोबार से जुड़े तस्करो तक पहुचनें की कोशिश कर रहे हैं।

admin