Leopard skin की तस्करी करने वाला गिरफ्तार,बड़ा गिरोह का हो सकता है हाथ

Leopard skin की तस्करी करने वाला गिरफ्तार,बड़ा गिरोह का हो सकता है हाथ

Leopard skin के साथ stf ने किया एक व्यक्ति गिरफ्तार

 

देहरादून(अरुण शर्मा)। leopard skin के साथ stf ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।

यूपी का रहने वाला यह आरोपी उत्तराखंड के पहाड़ी इलाको से leopard skin को up में सप्लाई करता था।

Stf ने आरोपी ऊधमसिंह नगर के खटीमा इलाके से गिरफ्तार किया है।

Stf ने जीव जन्तू के अंगो की अवैध तस्करी में लिप्त तस्करों के खिलाफ अभियान चलाया हुआ है।

यह भी पढ़े-प्रेमी की छोटी से बात से नाराज प्रेमिका आधी रात पहुँच गई प्रेमी के घर और कार दिया ये बड़ा कांड

इसी कड़ी में उत्तराखण्ड स्पेशल टास्क फोर्स को सूचना मिली किं उधम सिंह नगर के खटीमा क्षेत्र में एक वन्य जीव जन्तू के अंगो का अन्तर्राष्ट्रीय तस्कर वन्य जीव जन्तू के अंगो की तस्करी करने आ रहा है।

Stf ने वन विभाग के साथ मिलकर एक टीम बनाई और आरोपी को उक्त खटीमा क्षेत्र में हिरासत में ले लिया।

जिसके पास लैपर्ड की खाल, जिसकी लम्बाई करीब 7 फीट व चौढ़ाई करीब 4 फीट है बरामद की।

अभियुक्त ने पूछताछ में बताया कि वह यह लैपर्ड की खाल चल्थी वन प्रभाग से लेकर आया है।

जो करीब एक वर्ष पुरानी है तथा जिसको जंगल में फन्दा लगाकर गले में किसी धारदार हथियार से मारा गया है।

Leopard skin के साथ गिरफ्तारजिसकी अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में कीमत करीब बारह लाख (12,0000/00) रूपया है।

उसने बताया कि वह पहले भी कई बार अवैध वन्य जीव अंगो की तस्करी पहाड़ो से उत्तर प्रदेश व दिल्ली आदि राज्यों में कर चुका है।

अभियुक्त ने पूछताछ में यह भी बताया कि उसका लखनऊ से पासपोर्ट बना है।

अभियुक्त इस लैपर्ड की खाल को उत्तराखण्ड में किस-किस से प्राप्त करता है तथा उत्तर प्रदेश में किस-किस को सप्लाई करता है, इस सम्बन्ध में अभियुक्त से विस्तृत पूछताछ जारी है।

गिरफ्तार अभियुक्त वीरू प्रसाद पुत्र बुनेला, निवासी सम्पूर्णानगर सिंघर खुर्द, थाना सम्पूर्णानगर, जिला लखीमपुर खीरी, उत्तर प्रदेश का रहने वाला है।

admin

One thought on “Leopard skin की तस्करी करने वाला गिरफ्तार,बड़ा गिरोह का हो सकता है हाथ

Comments are closed.