हरिद्वार(अरुण शर्मा)। हरिद्वार की लक्सर कोतवाली में उस समय हंगामा खड़ा हो गया,

जब एक व्यक्ति हाथ मे जहर की बोतल लेकर खुदकुशी करने के लिए पहुंच गया।

आनन-फानन में पुलिस ने उसे रोका और वजह जानी तो मामला पुलिस की ही लापरवाही का निकला।

दरअसल मामला पैसे के लेन-देन का है, जिसमे पीड़ित व्यक्ति अपने सवा लाख रुपये वापस दिलाने को पिछले दिनों कोतवाली आया था।

लक्सर कोतवाली ने पूरे मामले को शांति भंग का बनाते हुए दोनों ही पार्टी को जेल भेज दिया था।

फिर क्या था जमानत कराने के बाद पीड़ित कोतवाली जहर लेकर पहुंच गया। और खुदखुशी का प्रयास किया।

लक्सर पुलिस के हाथ पांव फूल गए और उन्होंने आनन-फानन में दूसरे पक्ष को बुला भेजा दोनों का विवाद निपटाने में जुट गई।

दरअसल लक्सर क्षेत्र के बहादरपुर खादर गांव में ओमवीर नाम के एक व्यक्ति का मुर्गा फार्म है।

ओमबीर ने उक्त व्यक्ति से ₹125000 किसी अन्य व्यक्ति को दिलवाए।

उसके बाद मुर्गा लेने पहुंचे इमरान को मुर्गे देने से मना कर दिया मामला विवाद में बदल गया।

पीड़ित के बेटे इमरान ने पुलिस के सो नंबर पर फोन करके जानकारी दे दी।

पुलिस द्वारा ओमवीर इमरान को लक्सर कोतवाली बुलाया गया।और दोनों की बात सुने बिना ही धारा 151 में चालान कर दोनों को जेल भेज दिया।

एसआई टीकम सिंह चौहान ने बताया कि मामला पैसों के लेन-देन का है।

इनका कहना है कि इन्होंने लक्सर कोतवाली में तहरीर दी है। जो मेरे संज्ञान में नहीं है दोनों पक्षों को बुला लिया है।

 

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *