काम से हटाया तो शराब पीकर कर दिया दुष्कर्म,मिली फांसी

काम से हटाया तो शराब पीकर कर दिया दुष्कर्म,मिली फांसी

देहरादून(अरुण शर्मा)। दुष्कर्म करने वाले को मिली फांसी की सजा,अब से तीन साल पहले बच्चे से हुए दुष्कर्म के मामले में पोक्सो कोर्ट ने आरोपी को फांसी की सजा सुनायी। मामला 2016 का हैं। कोर्ट ने दुष्कर्म के आरोपी पर अलग अलग धाराओं में सवा लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया हैं।

खास खबर—ठगस आॅफ दून के ठगी का अनूठे तरीके ने विदेशीयों को भी नहीं छोड़ा

देहरादून की रायपुर थाना क्षेत्र में एक बच्चे से दुष्कर्म का मामला सामने आया था। पुलिस ने मामले में छानबीन करते हुए जितेंद्र नाम के आरोपी को गिरफ्तार किया था। करीब तीन साल की सुनवायी के बाद मामले में आरोपी को पोक्सो कोर्ट ने फांसी की सजा सुनायी। 6पोक्सो अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया।
चार्जशीट दाखिल होने के बाद अभियोजन की ओर से कुल 12 गवाह पेश किए गए। जिसके आधार पर न्यायालय ने आरोपी को दोषी करार दिया। भरत सिंह नेगी ने बताया कि दोषी को बृहस्पतिवार को अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है।

क्या था पूरा घटनाक्रम ?

लखीमपुर खिरी का एक मजदूर का परिवार नेहरू कॉलोनी में एक निर्माणाधीन भवन में काम करता था। उनके साथ ही राजेश उर्फ जितेंद्र निवासी अकरौली संभल (उत्तर प्रदेश) भी काम करता था।
जितेंद्र शराब पीने का आदि था, जिस पर तंग आकर उसके ठेकेदार ने उसे काम से हटा दिया था। घटना के दिन जितेंद्र चुपके से निर्माणाधीन भवन में आया और वहां खेल रहे तीन साल के बच्चे को अपने साथ छत पर ले गया।

आसपास के लोगों ने उसे आते और जाते देखा था। कुछ देर बाद जब बच्चा घर नहीं आया तो उसके परिजनों ने तलाशना शुरू किया। इस बीच बच्चे का भाई निर्माणाधीन भवन की छत पर गया तो देखा कि वह बेहोश पड़ा हुआ था।

admin