उत्तराखंड का ऐतिहासिक दिन-ऑनलाइन कैबिनेट में बनेगी राज्य के लिए नितियां

उत्तराखंड का ऐतिहासिक दिन-ऑनलाइन कैबिनेट में बनेगी राज्य के लिए नितियां

देहरादून(अरुण शर्मा)। उत्तराखंड पेपरलैस कामकाज करने की ओर बुधवार का दिन ऐतिहासिक रहा। उत्तराखंड सरकार की पहली ई कैबिनेट के आयोजन के साथ ही आज का दिन ऐतिहासिक हो गया। अब मंत्रिमंडल की बैठक में काम काज के लिए कागज की जगह ऑनलाइन प्रस्ताव बनकर जाएगा। यही नहीं इसपर ऑनलाइन चर्चा कर डिजिटल संस्तुति दी जायेगी।

खास खबर—उत्तराखंड शिक्षा से अच्छी खबर-समेस्टर प्रणाली समाप्त सरकार ने लागू की यह व्यवस्था

कैसे काम होगा ई-कैबिनेट में ?

प्रदेश में अब कैबिनेट की बैठकों में अब कागज की जगह अब ऑनलाइन प्रस्ताव बनकर जाएगा। प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री, मंत्री और संबंधित अधिकारी ऑनलाइन चर्चा कर डिजिटल संस्तुति देंगे। मंत्रियों के ट्रेनिंग प्रोग्राम के बाद शासन ने बृहस्पतिवार को इसका शासनादेश जारी कर दिया है।

ई मंत्रिमंडल के लिए पोर्टल तैयार कर दिया है। बैठक से संबंधित सामान्य सूचनाएं, स्थान और समय पोर्टल, एसएमएस और ईमेल के माध्यम से मंत्रिमंडल को अवगत करवाया जाएगा। प्रणाली का इस्तेमाल करने वालों का ई अकाउंट होगा। इस पर सभी का लॉगइन आईडी तैयार किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा……..

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बुधवार को सचिवालय में ई-मंत्रिमण्डल प्रणाली का शुभारम्भ किया। मुख्यमंत्री ने कहा ई-कैबिनेट का उद्देश्य समयबद्ध ढंग से कार्रवाई करना, लेस पेपर व्यवस्था को प्रोत्साहित करना एवं संस्थागत मेमोरी को विकसित करना है। इसके प्रयोग से जहाँ पर्यावरण मित्र के माध्यम से कागज की बचत होगी वहीं संस्थागत मेमोरी द्वारा पूर्व की कैबिनेट जानकारी को प्राप्त करना भी आसान होगा। ई-कैबिनेट, ई-गवर्नेंस और पारदर्शिता की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

बुधवार का दिन उत्तराखंड के लिए खासा महत्व वाला रहा। आज राज्य की पहली ई-कैबिनेट बैठक की गयी। इस बैठक में अटल आयुष्मान योजना के तहत कर्मचारियों को लाभ देने,जल से जुड़े सभी विभागों को एक करने,बिज़नेस लैंड, एग्रीकल्चर लैंड, नोन एग्रीकल्चर लैंड भूमि के नए सर्किल रेट सहित कई अहम मसलों पर मुहर लगने की उम्मीद हैं

 

admin