दुनिया कोरोना में लगी हुई है और पहाड़ के इस गांव में चल रही लोगों की दबंगई

दुनिया कोरोना में लगी हुई है और पहाड़ के इस गांव में चल रही लोगों की दबंगई

उत्तरकाशी(कमल खड़का)। जंहा एक तरफ पूरा देश इन दिनों कोरोना की जंग में लगा हुआ है तो वहीं इससे अलग पहाड़ पर कुछ लोग अपनी दबंगई से बाज नहीं आ रहे हैं। दरअसल मामला उत्तरकाशी के पुजार गांव का है जंहा पर कुछ लोगों पर जबरन घरों की दिवार गिराने का आरोप हैं।

खास खबर—दून में एक और जमाती कोरोना पॉजिटिव तो 9 माह के बच्चे ने दी कोरोना को मात

लोगों का आरोप है कि कुछ लोग जबरन गरीब लोगों के घरों की दिवार को यह कह कर गिरा रहे है कि वह रास्ते में हैं। जबकि लोगों का कहना है कि वहां सालों से दिवार हैं। हालांकि इस मामले में अभी तक किसी भी तरह के प्रशानिक दखलदांजी की खबर नहीं हैं।

कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते दहशत का माहौल बना हुआ । वहीं देश में लॉकडाउन का दूसरा चरण जारी है । पुलिस प्रशासन द्वारा लॉकडाउन का पालन कराने के लिए लोगों को लगातार जागरूक किया जा रहा है लेकिन दूसरी उत्तराकाशी के धानारी पट्टी के पुजार गांव में लॉकडाउन के नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही ।

बता दें कि कुछ नेताओं की दबंगई के चलते जबरन गरीब व्यक्ति के घर की दिवार गिरा कर भीड़ इकट्ठा कराई गई। जिसमें सोशल डिस्टिंस का भी जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है। वहीं ये नेता खुद तो देहरादून में घर बनाए है लेकिन लॉकडाउन में गांव की हवा खाने पहुंचे ये लोगनी दबगंई गरीब लोगों के सामने दिखाकर साफ जाहिर कर रहे हैं कि इन्हेंने किसी का डर नहीं है।

सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जीयां……

हलांकि अभी उत्तरकाशी में कोरोना का कोई मरीज सांमने नहीं आया लेकिन प्रशासन लॉक़डाउन और सोशल डिस्टिंग का पाठ लगातार लोगों को पढ़ा रही है लेकिन ऐसे लोगों के कारण कहीं न कहीं इन नियमों की सरेआम धज्जियां उड़ाई जा रही है।

दरसल पूरा मामला कुछ गरीब परिवारों के घरों में बनी दिवार को लेकर है जहां ये दबंग लोग दिवार को यह कह कर गिरा रहे है कि दिवार गांव के रास्तों पर पड़ती है जबकि पीड़ित परिवारों की माने तो ये दिवारें सालों से बनी हुई है । वहीं मामले पर पीड़ित परिवारों ने जांच की मांग की है ।

admin